logo
Breaking

Shocking! अमित शाह और राहुल गांधी में पूरे साल हुई भिड़ंत, जानिए दोनों में से कौन बना साल 2017 का चाणक्य

साल 2017 देश की चुनावी राजनीति के लिहाज़ से बेहद खास रहा। देश को नए राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति मिले। उत्तर प्रदेश सहित कुल 7 राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए। कई सूबों में स्थानीय चुनाव भी संपन्न हुए।

Shocking! अमित शाह और राहुल गांधी में पूरे साल हुई भिड़ंत, जानिए दोनों में से कौन बना साल 2017 का चाणक्य

भारतीय राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह इस साल तुरुप का इक्का साबित हुए हैं। इस साल कई राज्यों में चुनाव हुए और इनमें अधिकांश राज्यों में भाजपा की जीत हुई। जिसका पूरा श्रेय भाजपा ने अमित शाह को दिया। अमित शाह ने चुनावी दंगल में मेहनत भी की और इसका फल भी खाया।

साल 2017 देश की चुनावी राजनीति के लिहाज़ से बेहद खास रहा। देश को नए राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति मिले। उत्तर प्रदेश सहित कुल 7 राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए। कई सूबों में स्थानीय चुनाव भी संपन्न हुए।

इसे भी पढ़ेंः सरकार से नाराज अन्ना हजारे ने कहा प्राण त्याग दूंगा, जानिए क्यों?

132 साल पुरानी कांग्रेस पार्टी की कमान 47 वर्षीय राहुल गांधी को सौंप दी गई। राहुल की ताजपोशी के कुछ घंटों बाद ही गुजरात और हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस पार्टी को हार का सामना करना पड़ा। इस तरह अमित शाह के सिर जीत का एक और सेहरा बंध गया और राहुल को सिंहासन मिलने का रंग फीका पड़ गया।

इन राज्यों के चुनाव जीतने से बढ़ा शाह का कद

2017 के सबसे बड़े सियासी चेहरे के रूप में अमित शाह और राहुल में किसने अपना प्रभाव छोड़ा, इसके लिए साल के बड़े सियासी पर्वों का आंकलन जरूरी है, जिनकी शुरुआत फरवरी-मार्च में हुई। साल की पहली तिमाही में देश के राजनीतिक आंकड़ों में बड़ा उलटफेर देखने को मिला।

उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में विधानसभा चुनाव हुए। यूपी और उत्तराखंड में भारतीय जनता पार्टी को प्रचंड बहुमत मिला। राजनीतिक रूप से देश के सबसे बड़े सूबे यूपी के नतीजों ने सबको चौंका दिया। पार्टी ने अपने दम पर 403 सीटों विधानसभा में 312 पर परचम लहराया और घटक दलों की सीट मिलाकर ये आंकड़ा 325 तक पहुंच गया।

Loading...
Share it
Top