Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 13 जून को व्हाइट हाउस में मुसलमानों को देंगे इफ्तार पार्टी

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मुसलमानों के पवित्र महीने रमजान में व्हाइट हाउस में रोजा इफ्तार पार्टी देंगे। व्हाइट हाउस के अधिकारियों ने बताया कि आगामी 13 जून को रोजा इफ्तार पार्टी का आयोजन किया जाएगा।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 13 जून को व्हाइट हाउस में मुसलमानों को देंगे इफ्तार पार्टी
X

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मुसलमानों के पवित्र महीने रमजान में व्हाइट हाउस में रोजा इफ्तार पार्टी देंगे। व्हाइट हाउस के अधिकारियों ने बताया कि आगामी 13 जून को रोजा इफ्तार पार्टी का आयोजन किया जाएगा।

हालांकि व्हाइट हाउस में आयोजन होने वाली इस रोजा इफ्तार पार्टी में किन मेहमानों को न्योता दिया जाएगा यह अभी तय नहीं हुआ है। आपको बता दे कि इफ्तार पार्टी के लिए मेहमानों की लिस्ट बनना अभी बाकी है।

गौरतलब है कि रमजान के पवित्र महीने में मुस्लिम समुदाय के लोग सूर्यादय से लेकर सूर्यास्त तक फास्ट रखते हैं और शाम को इफ्तार के समय ही अन्न ग्रहण करते हैं। आपको बता दे कि ट्रंप प्रशासन द्वारा पहली बार व्हाइट हाउस में इफ्तार पार्टी का आयोजन किया जा रहा है।

हालांकि ट्रंप प्रशासन द्वारा इससे पहले पिछले साल व्हाइट हाउस में इफ्तार पार्टी का आयोजन नहीं किया गया था। रिपोर्टस् के मुताबिक इससे पहले पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, जॅार्ज बुश, बिल क्लिंटन भी व्हाइट हाउस में इफ्तार पार्टी का आयोजन कर चुके हैं।

आपको बता दे कि पिछले महीने रमजान महीने की शुरुआत में ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मुसलमानों को रमजान की शुभकामनाएं दी थी। डोनाल्ड ट्रम्प ने अपने संदेश में कहा था कि रमजान हमें उदारता की याद दिलाता है।

हम सब धन्य है कि अमेरिकी संविधान में रहते हैं, जो जो धार्मिक स्वतंत्रता को बढ़ावा देता है और धार्मिक अभ्यास का सम्मान करता है। हमारा संविधान सुनिश्चित करता है कि सरकार के बगैर रोक टोक मुस्लिम अपने विवेकानुसार रमजान को मना सकता है।

हम सब धन्य है कि अमेरिकी संविधान में रहते हैं, जो जो धार्मिक स्वतंत्रता को बढ़ावा देता है और धार्मिक अभ्यास का सम्मान करता है। हमारा संविधान सुनिश्चित करता है कि सरकार के बगैर रोक टोक मुस्लिम अपने विवेकानुसार रमजान को मना सकता है। ट्रंप ने कहा कि हमारा संविधान सुनिश्चित करता है कि सरकार के टोकटोक के बगैर मुस्लिम अपने विवेकानुसार रमजान को मना सकता है।

बता दे कि ट्रंप की छवि हमेशा से मुस्लि विरोधी रही है। ट्रंप ने अपने पिछले बयानों में मुस्लमानों को शरणार्थी, आतंकवादी जैसे शब्दों से संबोधित कर चुके है। जिसके लिए ट्रम्प को दुनियाभर के मुसलमानों की आलोचना का शिकार होना पड़ा था। यही नहीं ट्रंप प्रशासन ने तो इराक,ईरान और सीरिया जैसे देशों से आने वाले मुसलमानों के अमेरिका में आने पर भी प्रतिबंध लगा दिया था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story