Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दक्षिण चीन सागर में जासूसी न करे अमेरिका: चीन

दक्षिण चीन सागर पर चीन ने अमेरिका को हिदायत दी है।

दक्षिण चीन सागर में जासूसी न करे अमेरिका: चीन
पेइचिंग. चीन ने दक्षिण चीन सागर में एक मानवरहित ड्रोन को जब्त किया था। चीन की नौसेना की ओर से अमेरिकी ड्रोन को जब्त किए जाने के बाद दोनों देशों के बीच बढ़े तनाव का पटाक्षेप होता दिख रहा है। चीन ने अमेरिका को हिदायत तक दे डाली है।
दक्षिण चीन सागर में जासूसी करना बंद कर दे अमेरिका
चीन ने अमेरिका को कहा है कि वो दक्षिण चीन सागर में जासूसी करना बंद कर दे। अमेरिका के ड्रोन को जब्त किए जाने को लेकर छिड़े विवाद के बीच चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में यह हिदायत दी गई है। रिपोर्ट में सैन्य विश्लेषकों के हवाले से कहा गया है कि अमेरिका को साउथ चाइना सी में जासूसी रोक देनी चाहिए।
यह पहला मौका नहीं है
पेइचिंग स्थित नेवी एक्सपर्ट ली जेइ ने कहा, 'यह पहला मौका नहीं है, जब हमने दक्षिण चीन सागर में जल के भीतर अमेरिकी ड्रोन को सीज किया है। लेकिन गुरुवार को जो ड्रोन सीज किया गया है, वह पहले से अडवांस है और वह दक्षिण चीन सागर में मौजूद अधिक कीमती सूचनाओं को हासिल कर सकता है।'
ड्रोन पकड़े जाने पर अमेरिका बहुत नर्वस
ली ने कहा कि यही वजह है जिसके कारण ड्रोन पकड़े जाने पर अमेरिका बहुत नर्वस है। इससे पहले उपकरण जब्त किए जाने पर उसने शांति बरती थी, जबकि इस बार वह मीडिया हाइप बनाने की कोशिश कर रहा है। ली ने कहा कि अमेरिका को इस बात का पता था कि ऐसी जासूसी हरकतें सही नहीं हैं। शनिवार को ही चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा था, 'अमेरिका को चीन उचित ढंग से उसका जब्त किया गया ड्रोन लौटाएगा।'
हाइड्रो इंटेलिजेंस और तापमान से जुड़ी अगम जानकारियां
चीन के फोएनिक्स टीवी से जुड़े मिलिट्री कॉमेंटेटर सॉन्ग झॉन्गपिंग ने ग्लोबल टाइम्स को बताया कि इस तरह का अंडरवॉटर वीकल समुद्र के भीतर मौजूद हाइड्रो इंटेलिजेंस और तापमान से जुड़ी अगम जानकारियां हासिल कर सकता है।
सबमरीन्स के मूवमेंट की जानकारी को भी रिसीव किया जा सकता है
सॉन्ग ने कहा कि खासतौर पर ऐसे उपकरण मिलिट्री इंटेलिजेंस भी हासिल कर सकते हैं, जैसे सबमरीन्स के मूवमेंट की जानकारी को भी रिसीव किया जा सकता है। सॉन्ग ने कहा कि साउथ चाइना सी वह रणनीतिक स्थान है, जो चीन के नेवी सबमरीन्स और न्यूक्लियर सबमरीन्स के लिए बहुत महत्व रखता है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top