Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अमेरिका ने भारतीय मूल के ISIS आतंकी सिद्धार्थ धर को बताया ''ग्लोबल टेररिस्ट''

अमेरिका ने आतंकी सिद्धार्थ धर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित कर दिया है। बताया जा रहा है कि यह आतंकी भारतीय मूल के इस्लामिक स्टेट (ISIS) में ब्रिटिश आतंकी है।

अमेरिका ने भारतीय मूल के ISIS आतंकी सिद्धार्थ धर को बताया

अमेरिका ने आतंकी सिद्धार्थ धर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित कर दिया है। बताया जा रहा है कि यह आतंकी भारतीय मूल के इस्लामिक स्टेट (ISIS) में ब्रिटिश आतंकी है। अमेरिकी सरकार के द्वारा की गई इस घोषणा के बाद आईएसआईएस आतंकी सिद्धार्थ धर पर कई तरह के प्रतिबंध लगाए जाएंगे। साथ ही अमेरिका में स्थित उसकी सारी प्रॉपर्टी भी जब्त की जायेगी।

अमेरिकी गृह मंत्रालय ने बताया कि सिद्धार्थ धर के अलावा बेल्जियम मूल के मोरक्को के नागरिक अब्दुल लतीफ गनी को भी ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया गया है। गनी की भी संपत्तियां जब्त की जायेंगी।
आपको बता दें कि एक मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कुछ साल पहले सिद्धार्थ धर ने हिंदू धर्म छोड़कर इस्लाम धर्म कबूल कर लिया था। धर्म परिवर्तित करने के बाद उसने अपना नाम सिद्धार्थ की जगह अबु रूमायसाह रख लिया था।
इसके पहले सिद्धार्थ अल मुहाजिरुन नाम के आतंकी संगठन का मुख्य सदस्य था। हालांकि 2014 में उसे गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन उसी साल जमानत के बाद वह अपने परिवार के साथ सीरिया भाग गया था।
सीरिया जाकर उसने आईएसआईएस की सदस्यता ले ली। और वह आईएसआईएस का सीनियर कमांडर बन गया साथ ही वह उसने 'जिहादी जॉन' के नाम से कुख्यात मोहम्मद एमवाजी की जगह ले ली।

बता दें कि जनवरी 2016 में यूके के लिए जासूसी करने वाले कई कैदियों की आईएस ने गला काटने का वीडियो जारी किया था। उस विडियो में मास्क पहने जो शख्स था वह कथित तौर पर धर बताया जाता है।
गौरतलब है कि मई 2016 में आईएसआईएस में सेक्स स्लेव बनाई गई एक यहूदी लड़की ने अपनी किडनैपिंग का खुलासा किया था इसी के बाद से आतंकी सिद्धार्थ धर मीडिया में चर्चा में आया था। लड़की का कहना था कि सिद्धार्थ धर उसे अगवा कर इराक के शहर मोसुल ले गया था।
Next Story
Top