Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इलाहाबाद हाईकोर्ट: दूसरी शादी के लिए धर्म परिवर्तन अवैध

हाईकोर्ट ने कहा कि दूसरी शादी के लिए धर्म परिवर्तन करना गैरकानूनी है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट: दूसरी शादी के लिए धर्म परिवर्तन अवैध

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दूसरी शादी के लिए धर्म परिवर्तन करने पर बड़ा फैसला सुनाया है। हाईकोर्ट ने कहा कि दूसरी शादी के लिए धर्म परिवर्तन करना गैरकानूनी है। हाईकोर्ट ने कहा कि इसका बालिग होने से कोई मतलब नहीं है, कानून इसे सही नहीं मानता।

हाईकोर्ट ने कहा कि जब तक पहली शादी में तलाक नहीं हो जाता तब तक दूसरी शादी करना अवैध है। इस तरह से विवाह को शून्य माना जाएगा। दरअसल यूपी के जौनपुर में विवाहित महिला ने दूसरे लड़के से शादी करने के लिए धर्म परिवर्तन कर लिया था जिसके बाद परिवार वालों ने उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर दी थी।
गिरफ्तारी से बचने के लिए महिला ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की जो की हाईकोर्ट ने खारिज कर दी। लड़की की ओर से दलील दी गई की वो बालिग है और उसने अपनी मर्जी से विवाह किया है। गौरतलब है कि कोर्ट ने इनकी शादी को अवैध माना है और किसी भी तरह की राहत देने से इंकार कर दिया है।
Next Story
Share it
Top