Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आरुषि हत्याकांड: कोर्ट रूम में तलवार वकील और सीबीआई ने रखी ये दलीलें, जज ने पूछे कई सवाल

तलवार दंपत्ति को हाईकोर्ट ने बरी कर दिया है।

आरुषि हत्याकांड: कोर्ट रूम में तलवार वकील और सीबीआई ने रखी ये दलीलें, जज ने पूछे कई सवाल

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आरुषि हत्याकांड मामले में माता-पिता राजेश और नूपुर तलवार को बरी कर दिया है। इसका मतलब ये है कि आरुषि की हत्या तलवार दंपत्ति ने नहीं की है। गुरूवार को इस मामले की सुनवाई पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ये फैसला सुनाया।

कोर्ट ने कहा कि निचली अदालत ने परिस्थिति जन्य साक्ष्यों के आधार पर ही फैसला सुनाया है। हाईकोर्ट ने कहा कि हत्या की वजहों को लेकर अभी कुछ स्पष्ट नहीं है। हाईकोर्ट ने कहा कि सीबीआई की अदालत ने कानून के बुनियादी नियमों की अनदेखी की है।

हाईकोर्ट ने कहा कि आरुषि मामले को मैथ की प्रॉब्लम की तरह सुलझाया गया है जो कि नहीं होना चाहिए था। कोर्ट ने कहा कि कानून के सबूत और गवाहों को महत्वपूर्ण माना जाता है इसलिए पहेली की तरह केस सॉल्व नहीं करना चाहिए। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा कि फिल्म निर्देशक की तरह सीबीआई कोर्ट ने खुद ही मान लिया की नोएडा के जलवायू विहार के L 32 फ्लैट में क्या हुआ था।
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा कि सीबीआई कोर्ट के जज के बारे में ऐसा लगता है मानो जज को कानून की सही जानकारी नहीं थी। हाईकोर्ट ने कहा की ट्रायल कोर्ट को तथ्यों को तोड़ना -मरोड़ना नहीं चाहिए था, उन्हें पारदर्शी और निष्पक्ष रहना चाहिए।
गौरतलब है कि आरुषि मर्डर केस की सुनवाई के बाद सीबीआई कोर्ट ने 26 नवंबर को आरुषि के माता- पिता राजेश और नूपुर तलवार को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। इसके खिलाफ तलवार दंपत्ति ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में अपील दायर की थी। तलवार दंपत्ति इस समय गाजियाबाद के डासना जेल में सजा काट रही है। आज राजेश और नूपुर तलवार की रिहाई हो सकती है।
Share it
Top