Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

AIR कर रहा है जाधव को बचाने की कोशिश

पाकिस्तान को इस्लाम का पाठ पढ़ाकर कुलभूषण को बचाने की कोशिश में पाकिस्तान में रोज 6 कार्यक्रम चला रहा ऑल इंडिया रेडियो।

AIR कर रहा है जाधव को बचाने की कोशिश
X

भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने जासूसी के आरोप में फांसी की सजा सुनाई है। इस फैसले के बाद से देश में सड़क से संसद तक उसे बचाने की मुहिम चल रही है। इस कड़ी में अब ऑल इंडिया रेडियो भी जुड़ गया है।

पाक श्रोताओं के लिए चलाया विशेष कार्यक्रम

ऑल इंडिया रेडियो पर पाकिस्तान को कुरान में लिखी बातों को सुनाकर कुलभूषण की फांसी को गुनाह बता रहा है। ऑल इंडिया रेडियो पर पाकिस्तानी श्रोताओं के लिए चलाए गए एक विशेष कार्यक्रम में सुनाया गया कि जो सफर में हो, उसका कत्ल करना इस्लाम में गुनाह है। मुसाफिर के साथ अल्लाह की हमदर्दी होती है।

भारत कर चुका है पाक को अगाह

कुलभूषण को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने खुफिया जासूसी के आरोप में मौत की सजा सुनाई है। भारत ने कड़ा ऐतराज जताते हुए कहा है कि यदि कुलभूषण को फांसी दी गई तो यह सोचे-समझे तरीके से की गई हत्या मानी जाएगी।

ईरान में बिजनेस करता है कुलभूषण

पाकिस्तान का दावा है कि कुलभूषण जासूसी गतिविधियों में शामिल था। लेकिन भारत का दावा है कि वो ईरान में कारोबार करता है। जिस वक्त उसे पकड़ा गया, वो यात्रा पर था। कोई भी पाक अधिकारी इस बात की जानकारी नहीं दे पाया है कि आखिर कुलभूषण पाकिस्तान कैसे पहुंचा।

रोज सात कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं

ऑल इंडिया रेडियो कुलभूषण की फांसी का सजा टालने के लिए रोज सात कार्यक्रमों का प्रसारण कर रहा है। ये कार्यक्रम पाकिस्तान और अफगानिस्तान में श्रोताओं को ध्यान में रखकर प्रसारित किए जाते हैं।

छह भाषाओं में हो रहा प्रसारण

ये प्रसारण पश्तो, बलूची, पंजाबी, उर्दू, सिंधी और सरायकी सहित छह भाषाओं में होते हैं। एआईआर के अधिकारियों ने कहा कि पाकिस्तान के सिंध, पंजाब और बलूच इलाकों में 'इन कार्यक्रमों के श्रोताओं की काफी संख्या है।'

जाधव पर केंद्रित एआईआर के बुलेटिंस भारत के कूटनीतिक कदम का हिस्सा हैं। जाधव से जुड़ी सामग्री का प्रसारण सोमवार से शुरू हुआ। इन बुलेटिंस में काफी पैनी और ठोस दलीलें दी जा रही हैं। मंगलवार को प्रसारित एक बुलेटिन में कहा गया, 'मुसाफिर के साथ अल्लाह की हमदर्दी होती है और अल्लाह की ताकत उसके सफर में उसको राह दिखाती रहती है। मुसाफिर का कत्ल करना या उसे नुकसान पहुंचाने के बारे में सोचना इस्लाम में गुनाह माना गया है।'

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story