Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अखिलेश यादव फिर बने सपा अध्‍यक्ष, राष्ट्रीय अधिवेशन से मुलायम-शिवपाल गायब

चाचा भतीजे के बीच सुलह कराने में मुलायम सिंह अहम भूमिका निभा रहे हैं।

अखिलेश यादव फिर बने सपा अध्‍यक्ष, राष्ट्रीय अधिवेशन से मुलायम-शिवपाल गायब
X

समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की ओर से आशीर्वाद मिलने के दावे की पृष्ठभूमि में कल आयोजित होने वाले सपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में अखिलेश यादव को पार्टी अध्यक्ष चुन लिया गया है।

अखिलेश यादव को पांच साल के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया है। एक तरफ जहां सम्मेलन में सपा महासचिव आजम खान, रामगोपाल यादव, नरेश अग्रवाल, धर्मेंद्र यादव सहित पार्टी के वरिष्ठ नेता मंच पर मौजूद रहे। वहीं दूसरी तरफ मुलायम सिंह यादव और शिवपाल यादव गैरमौजूद थे।

इस बैठक से पहले शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव को फोन करके अध्यक्ष चुने जाने की अग्रिम बधाई दी थी। चाचा भतीजे के बीच सुलह कराने में मुलायम सिंह अहम भूमिका निभा रहे हैं।

सपा प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि बृहस्पतिवार को होने वाली राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी संविधान में संशोधन कर दल के अध्यक्ष का कार्यकाल तीन साल से बढ़ाकर पांच साल किया जाना है।

इसे भी पढ़ें: शिवपाल ने दी अखिलेश को अध्‍यक्ष बनने की बधाई

अखिलेश ने पिछले दिनों पिता मुलायम सिंह यादव को राष्ट्रीय अधिवेशन का न्यौता देने के बाद दावा किया था कि उन्हें सपा संरक्षक का आशीर्वाद प्राप्त है।

मुलायम ने भी गत 25 सितम्बर को संवाददाता सम्मेलन में अखिलेश के विरोधी शिवपाल सिंह यादव के धड़े को झटका देते हुए कहा था कि पिता होने के नाते उनका आशीर्वाद पुत्र के साथ है। इस पृष्ठभूमि में पूरी सम्‍भावना है कि अखिलेश को फिर सपा अध्‍यक्ष चुन लिया जाएगा।

कार्यकाल पांच वर्ष का किये जाने के बाद यह तय हो जाएगा कि सपा वर्ष 2019 का लोकसभा चुनाव और 2022 का उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव भी पार्टी अखिलेश के नेतृत्‍व में लड़ेगी। अखिलेश गत एक जनवरी को लखनऊ में आयोजित राष्‍ट्रीय अधिवेशन में मुलायम की जगह सपा के अध्‍यक्ष बने थे।

आगे की स्लिड्स में जानिए समाजवादी पार्टी के अंतर्कलह के बारे में...

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story