Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

यूपी में नोटबंदी से मरने वालों के परिजनों को मिलेंगे 2 लाख: अखिलेश यादव

रजिया की मृत्यु भी नोटबंदी के कारण हुई थी।

यूपी में नोटबंदी से मरने वालों के परिजनों को मिलेंगे 2 लाख: अखिलेश यादव
X
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बुधवार प्रदेश में नोटबंदी के कारण मरे लोगों के परिजनों दो-दो लाख रुपये की मदद देने का फैसला किया है। साथ ही प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने अलीगढ़ की रहने वाली श्रीमती रजिया पत्नी अकबर हुसैन के निधन पर दुःख व्यक्त करते हुए उनके परिजन को 'मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष' से पांच लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। रजिया की मृत्यु भी नोटबंदी के कारण हुई थी। इस घटना को दुःखद बताते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता को अपनी ही धनराशि को प्राप्त करने के लिए इस प्रकार बैंकों एवं एटीएम की लाइन में लग कर पैसा निकालने का प्रयास करना और उस पर भी सफल न हो पाना अत्यन्त कष्टप्रद है।
रजिया ने अपने आप को लगाई आग
हिंदुस्तान की खबर के मुताबिक, प्रवक्ता ने यहां बताया कि नोट बंदी के बाद श्रीमती रजिया अपने कारखाने से मजदूरी के रूप में प्राप्त 500-500 के छह नोट बदलवाने के लिए अपने नजदीकी बैंक में लगातार तीन दिन तक कोशिश करती रहीं, परन्तु वह नोट बदलने में सफल नहीं हो पायीं। इस पर आर्थिक रूप से कमजोर श्रीमती रजिया ने दुःखी होकर अपने आप को आग लगा ली। गम्भीर रूप से जली श्रीमती रजिया का जिला अस्पताल, जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कालेज, अलीगढ़ के बाद सफदरजंग अस्पताल, नई दिल्ली में इलाज चला।
मुख्यमंत्री सहायता कोष
नई दिल्ली में इलाज के दौरान चार दिसम्बर को उनकी मृत्यु हो गई। मुख्यमंत्री ने उनके परिवार की खराब आर्थिक स्थिति को देखते हुए उनके परिजन को पांच रुपये आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में नोट बंदी के फलस्वरूप बैंकों एवं एटीएम की लाइन में लगे लोगों की मौत को दुखद बताया है। उन्होंने ऐसे सभी कमजोर आर्थिक स्थिति वाले लोगों को परीक्षण के बाद मुख्यमंत्री सहायता कोष से दो-दो लाख रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story