Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जानिए चीनी सेना क्यों थर्रा जाती थी मार्शल अर्जन सिंह से

चीन युद्ध के समय अर्जन सिंह इंडिया आर्मी के डिप्टी एयर स्टाफ थे।

जानिए चीनी सेना क्यों थर्रा जाती थी मार्शल अर्जन सिंह से

एयरफोर्स मार्शल अर्जन सिंह का शनिवार शाम को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। अर्जन सिंह 98 साल के थे।

मार्शल अर्जन सिंह भारत के पहले ऐसे एयरफोर्स मार्शल थे जो सिर्फ 40 साल की उम्र में ही वायु सेना प्रमुख बन गए थे।

इसे भी पढ़ें- आखिरकार सेना ने माना, नहीं रहे एयरफोर्स मार्शल अर्जन ‌सिंह

बताया जाता है कि 1965 के चीन युद्ध के समय अर्जन सिंह ने बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। भारत चीन युद्ध के समय अपने साहस और पराक्रम का परिचय देते हुए चीनी सेना को मुहतोड़ जवाब दिया था।

चीन युद्ध के समय अर्जन सिंह इंडिया आर्मी के डिप्टी एयर स्टाफ थे। अर्जन सिंह आईएऍफ़ ,आरएएफ और आरएएएफ के बीच हुई जॉइंट एयर ट्रेनिंग "शिखा" के कमानडर भी थे।

जानकारी के मुताबिक अर्जन सिंह तीनों सेनाओं में मार्शल की रैंक तक पहुंचने वाले उन तीन चुनिंदा अधिकारियों की सूची में शामिल थे। इसमें मार्शल अर्जन सिंह के अलावा थलसेना से फील्ड मार्शल के़ ए‍म़ करियप्पा और फील्ड मार्शल सैम बहादुर मानेकशॉ शामिल हैं।

Next Story
Top