Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

एयरसेल-मैक्सिस मामले में पी चिदंबरम ने कोर्ट में दाखिल किया जवाब

एयरसेल-मैक्सिस मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी में कोई अनियमितता नहीं की गई थी।

एयरसेल-मैक्सिस मामले में पी चिदंबरम ने कोर्ट में दाखिल किया जवाब

एयरसेल-मैक्सिस मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी में कोई अनियमितता नहीं की गई थी। चिदंबरम ने बताया इस मामले में किसी प्रकार की रिश्वत नहीं ली गई थी।

चिदंबरम ने आगे कहा कि विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड में व्यापक विचार-विमर्श के आधार पर मंजूरी दी गई थी। उन्होंने कहा कि इस मामले में एफआईपीबी की सिफारिशे के आदर पर सामान्य प्रक्रिया के तहत मंजूरी दी गई थी।

इसे भी पढ़ें- 'कांग्रेस- राजा, महाराजा और थके हुए उद्योगपति के आधार पर चुनाव जीत सकती है क्या?'

एयरसेल-मैक्सिस मामले में सीबीआई ने बयान दिया था कि आवेदक पी चिदंबरम एक प्रभावशाली व्यक्ति है और साक्ष्य के साथ गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं। सीबीआई के इस बयान पर चिदंबरम ने कहा कि ये झूठे और बेबुनियादी आरोप है।

चिदंबरम ने आगे कहा कि सीबीआई को मेरे खिलाफ झूठे आरोप लगाने और मुझे पूछताछ के लिए बुलाने देने में कोई हिचकिचाहट नहीं की। उन्होंने कहा कि सीबीआई नेएयरसेल-मैक्सिस मामले में आरोपों को साबित करने के लिए कोई साबुत पेश नहीं किया।

Share it
Top