Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एयरसेल-मैक्सिस मामला : पी चिदंबरम और कार्ति चिदंबरम को 18 फरवरी तक गिरफ्तारी से राहत

एयरसेल-मैक्सिस मामलों में दिल्ली की अदालत ने पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम को गिरफ्तारी से मिली अंतरिम छूट की अवधि 18 फरवरी तक बढ़ाई।

एयरसेल-मैक्सिस मामला : पी चिदंबरम और कार्ति चिदंबरम को 18 फरवरी तक गिरफ्तारी से राहत
X

एयरसेल-मैक्सिस मामलों में दिल्ली की अदालत ने पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम को गिरफ्तारी से मिली अंतरिम छूट की अवधि 18 फरवरी तक बढ़ाई। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) से वह तारीख बताने को कहा जिस दिन वह आईएनएक्स मीडिया और एयरसेल मैक्सिस मामलों में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी.चिदंबरम के पुत्र कार्ति चिदंबरम से पूछताछ करना चाहता है।

न्यायालय ने ईडी को 30 जनवरी तक इस तिथि के बारे में बताने के लिए कहा है। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना की पीठ ने ईडी की ओर से पेश सोलिसिटर जनरल तुषार मेहता से कहा कि उस तारीख के बारे में बताया जाये जिस दिन जांच एजेंसी कार्ति से पूछताछ करना चाहती है।

कर्नाटक में गहराया राजनीतिक संकट, सीएम कुमारस्वामी ने दी पद छोड़ने की धमकी

पीठ कार्ति की उस याचिका पर सुनवाई कर रही थी जिसमें उन्होंने एक कंपनी द्वारा आयोजित अंतरराष्ट्रीय टेनिस टूर्नामेंटों के लिए अगले कुछ महीनों के लिए फ्रांस, स्पेन, जर्मनी और ब्रिटेन जाने की अनुमति दिये जाने का अनुरोध किया था। इस टेनिस टूर्नामेंट का आयोजन 'टोटस टेनिस लिमिटेड' द्वारा किया जा रहा है।

पीठ ने कहा कि हम दोनों चीजें सुनिश्चित करेंगे। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि वह (कार्ति) आपके (ईडी) समक्ष पेश हो और वह अपने टेनिस टूर्नामेंट के लिए विदेश भी जा सके। पीठ ने कहा कि अगर वह टाल-मटोल करता है तो उसके लिए कोई टेनिस नहीं है। ईडी को 30 जनवरी तक अदालत को यह बताना होगा कि वह किस दिन पूछताछ के लिए कार्ति को बुलाना चाहती है।

लोकसभा चुनाव 2019: चुनाव आयोग ने निर्वाचन अधिकारियों की नियुक्ति के लिए लिखा पत्र

कार्ति आपराधिक मामलों का सामना कर रहे है और इन मामलों की जांच ईडी कर रही है। जिनमें से एक मामला आईएनएक्स मीडिया को 305 करोड़ रुपये का विदेशी धन प्राप्त करने के लिए विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) मंजूरी से संबंधित है। जिस समय यह मंजूरी मिली, उस समय कार्ति के पिता वित्त मंत्री थे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story