logo
Breaking

एयरसेल-मैक्सिस केस: ''ED'' ने पी चिदंबरम के रिश्तेदारों के यहां की छापेमारी, मचा हड़कंप

एयरसेल-मैक्सिस डील को पूर्व वित्‍त मंत्री पी चिदंबरम ने 2006 में मंजूरी दी थी।

एयरसेल-मैक्सिस केस:

एयरसेल मैक्सिस सौदे में प्रवर्तन निदेशालय 'ईडी' एक के बाद एक ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है। 'ईडी' ने कार्रवाई करते हुए में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के एक रिश्तेदार के परिसरों समेत चेन्नई और कोलकाता में छापेमारी की।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक एजेंसी के अधिकारी शुक्रवार सुबह चेन्नई में चार स्थानों और कोलकाता में दो स्थानों पर तलाशी की। बताया जा रहा है कि चेन्नई के तेनायमपेट में एस कैलासम के परिसरों पर भी छापे मारे गए।

यह भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों की बड़ी कामयाबी, हंदवाड़ा में लश्कर का आतंकी गिरफ्तार

कैलासम पूर्व वित्त मंत्री के बेटे कार्ती चिदंबरम के मामा हैं। इसके अलावा रामजी नटराजन और सुजाय संबामूर्थि के घर पर भी छापा मारा गया है। कोलकाता में मनोज मोहनका के घर सहित दो ठिकानों पर छापे मारे गए हैं। सुत्रों ने बताया कि एफआईपीबी क्लीयरेंस के मामले में रिश्वत के आरोप पर यह कार्रवाई की गई है।

ये है मामला

ईडी का यह केस फॉरेन इन्‍वेस्‍टमेंट प्रमोशन बोर्ड 'एफआईपीबी' से जुड़ा है। एयरसेल-मैक्सिस डील को पूर्व वित्‍त मंत्री पी चिदंबरम ने 2006 में मंजूरी दी थी। ईडी का कहना है नियमों के मुताबिक पी चिदंबरम को 600 करोड़ रुपए तक के प्रोजेक्‍ट प्रपोजल्‍स को मंजूरी देने का अधिकार।

इससे ऊपर के प्रोजेक्‍ट के लिए कैबिनेट कमेटी ऑन इकोनॉमिक अफेयर्स की मंजूरी की जरूरत. थी। यह मामला 3,500 करोड़ रुपए की एफडीआई की मंजूरी का था, इसके बावजूद एयरसेल-मैक्सिस एफडीआई मामले में चिदंबरम ने मंजूरी दी।

Loading...
Share it
Top