Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

एयर स्ट्राइक के समय बालाकोट में जैश के कैंप पर एक्टिव थे 300 से ज्यादा फोनः सूत्र

भारत सरकार के नेशनल टेक्नोलॉजिकल रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन से जुड़े एक सूत्र ने बताया है कि एयर स्ट्राइक से पहले जैश के कैंप पर 300 से ज्यादा मोबाइल एक्टिव थे। जिससे यह अनुमान लगाया जा रहा है कि जब कैंप पर बमबारी हुई थी तब करीब 300 आतंकी मारे गए होंगे।

एयर स्ट्राइक के समय बालाकोट में जैश के कैंप पर एक्टिव थे 300 से ज्यादा फोनः सूत्र
भारत सरकार के नेशनल टेक्निकल रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन (National Technical Research Organisation) से जुड़े एक सूत्र ने बताया है कि एयर स्ट्राइक से पहले जैश के कैंप पर 300 से ज्यादा मोबाइल एक्टिव थे। जिससे यह अनुमान लगाया जा रहा है कि जब कैंप पर बमबारी हुई थी तब करीब 300 आतंकी मारे गए होंगे।
आपको बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। जिसके बाद भारतीय वायु सेना ने 13 दिन बाद 26 फरवरी मंगलवार को पाकिस्तान में घुस कर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कैंप पर एयर स्ट्राइक की थी।
उस समय मीडिया रिपोर्ट्स में आया था कि भारतीय वायु सेना की एयर स्ट्राइक में करीब 300 आतंकी ढेर हो गए हैं। जबकि वायुसेना के अधिकारियों ने कहा था कि जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी कैंप पर हमला किया गया।
जिस नुकसान के लिए सेना ने हमला किया था। वह रिजल्ट हमें मिला है। फिलहाल संख्या का नहीं पता है। एक जनसभा में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा था कि एयर स्ट्राइक में करीब 250 आतंकी मारे गए हैं।
जिस पर विपक्ष ने जमकर निशाना साधा था। विपक्ष के यह भी कहा था कि एयर स्ट्राइक का राजनीतिकरण हो रहा है। नेशनल टेक्नोलॉजिकल रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन (NTRO) की रिपोर्ट के बाद शायद संख्या की अटकलों में विराम लग जाए।
Share it
Top