Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जम्मू-कश्मीरः फिर होगी पैलेट गन की वापसी, प्रदर्शकारियों पर नहीं हो रहा है पावा सेल का असर

पेट ऊपर नहीं माना जाएगा प्रदर्शनकारियों को निशाना।

जम्मू-कश्मीरः फिर होगी पैलेट गन की वापसी, प्रदर्शकारियों पर नहीं हो रहा है पावा सेल का असर
X
जम्मू-कश्मीर. कश्मीर में नहीं थम रहे हिंसक प्रदर्शन के बाद आखिरकार सुरक्षा बलों ने पैलेट गन को फिर से इस्तेमाल करने का फैसला किया है। इससे पहले भारतीय सेना प्रदर्शनकारियों को खदड़ने में पैलेट गन की जगह पर पावा सेल का उपयोग कर रही थी।

सेना का कहना है कि प्रदर्शनकारियों पर पावा सेल के उपयोग का असर नहीं हो रहा है। सुरक्षाबलों की एक बैठक में यह फैसला किया गया कि अब पैलेट गन का इस्तेमाल प्रदर्शकारियों के पेट के ऊपरी हिस्से पर नहीं, बल्कि पैरों पर मारे जाएंगे।

वहीं, इस मामले को लेकर CRPF के महानिदेशक दुर्गा प्रसाद ने बताया कि आतंकवाद विरोधी कार्रवाई के दौरान होने वाले पैलेट गन का इस्तेमाल तो किया जाएगा, लेकिन पूर्व पैलेट गन का यह बदला हुआ रूप होगा।

उन्होंने बताया कि सीआरपीएफ के जवानों को निर्देश दिया गया है कि प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों के पैरों पर निशाना लगाएं, न कि पेट के ऊपरी हिस्से पर।

आगे उन्होंने बताया कि पैलेट गन के बदले हुए रूप में बदूंक की नली पर एक डिफ्लेक्टर लगा होगा जो छर्रों को ऊपर जाने से रोकेगी।

गौरतलब है कि इससे पहले 2016 में हिजबुल मुजाहिद्दीन के मोस्ट कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद घाटी में एक महीने से ज्यादा समय तक हिंसक झड़प हुई। इस झड़प के बाद करीब चार महीने तक कश्मीर में सभी काम पूरी तरह से ठप हो गए थे।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को
फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story