Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

विश्लेषण : उरी के बाद पुलवामा में आतंकियों का सबसे बड़ा हमला

उरी के हमले के बाद गुरुवार को आतंकियों ने पुलवामा में बड़ा हमला किया है। इस हमले में सीआरपीएफ 30 जवानों के शहीद होने की खबर है जबकि 45 जवान घायल बताए जा रहे हैं।

विश्लेषण : उरी के बाद पुलवामा में आतंकियों का सबसे बड़ा हमला

उरी के हमले के बाद गुरुवार को आतंकियों ने पुलवामा में बड़ा हमला किया है। इस हमले में सीआरपीएफ 30 जवानों के शहीद होने की खबर है जबकि 45 जवान घायल बताए जा रहे हैं। बता दें कि 18 सितंबर 2016 में भी आतंकियों ने उरी में ग्रेनेड से हमला किया था। जिसमें 17 जवान शहीद हो गए थे। तब आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने हमले की ली थी। उससे पहले साल 2015 में गुरदासपुर में आतंकियों ने हमला किया था।

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों को निशाना बना कर किए गए आईईडी विस्फोट की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली है। पुलवामा हमले पर CRPF के अधिकारी ने बताया कि काफिले में 70 वाहन थे और एक वाहन हमले की चपेट में आ गया। काफिला जम्मू से श्रीनगर की ओर जा रहा था।
सूत्रों के मिली जानकारी के अनुसार आतंकियों ने पहले इस इलाके में रेकी की और फिर हाइवे खड़ी एक गाड़ी में बम प्लांट कर दिया। जिसके बाद सीआरपीएफ का वाहन भी आईईडी ब्लास्ट की चपेट में आ गया।
सीआरपीएफ का यह काफिला उस वक्त हुआ जब वह जम्मू से श्रीनगर की ओर जा रहा था, इस काफिले में 2.5 हजार से अधिक जवान शामिल थे। बता दें कि इस आतंकी हमले में घायल जवानों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है जहां उनका इलाज शुरू हो गया है।
सीआरपीएफ के दिजी आर.आर भटनागर ने बताया कि जम्मू-कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ की अन्य कंपनियों को अवंतिपोरा भेजा गया। इलाके को चारों तरफ से घेर लिया गया है और जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर ट्रैफिक बंद कर, बड़ा सर्च ऑपरेशन शुरू किया है।
उन्होने कहा कि वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर मौजूद हैं। जांच जारी है। घायलों को भर्ती कराया गया है। काफिले में 2500 जवान थे।
इस हमले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी दुख जताया है। राहुल ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से लिखा, मैं जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ के काफिले पर कायरतापूर्ण हमले से बहुत दुःखी हूं, जिसमें हमारे बहादुर जवान शहीद हुए हैं और कई अन्य घायल हुए हैं। हमारे शहीदों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना। मैं घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की प्रार्थना करता हूं।
Next Story
Share it
Top