Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जेबी तूफान के बाद 6.7 तीव्रता वाले भूकंप से हिला जापान, 9 लोगों की मौत कई घर तबाह

जापान के होकायिदो द्वीप में गुरुवार को तड़के आए 6.7 तीव्रता वाले भूकंप में अब तक 9 लोगों की मौत हो गई है और कई घर ढह गए हैं। भूकंप और भूस्खलन की वजह से दर्जनों लोग लापता हैं।

जेबी तूफान के बाद 6.7 तीव्रता वाले भूकंप से हिला जापान,  9 लोगों की मौत कई घर तबाह

जापान के होकायिदो द्वीप में गुरुवार को तड़के आए 6.7 तीव्रता वाले भूकंप में अब तक 9 लोगों की मौत हो गई है और कई घर ढह गए हैं। भूकंप और भूस्खलन की वजह से दर्जनों लोग लापता हैं।

इस सप्ताह के शुरुआत में आए 25 साल के सबसे शक्तिशाली जेबी तूफान और उसके बाद अब आए भूकंप की वजह से इस क्षेत्र के लोग प्रभावित हुए हैं।

बिजली आपूर्ति करने वाले एक मुख्य थर्मल संयंत्र को पहुंची क्षति से करीब 30 लाख घरों में अंधेरा छाया हुआ है। प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने आपातकालीन कैबिनेट बैठक के बाद कहा, 'हम लोगों को सुरक्षित बचाने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे।

इसे भी पढ़ें- भारत को NSG की सदस्यता दिलाने के लिए नई दिल्ली के साथ मिलकर काम करेगा वाशिंगटन

सरकारी प्रवक्ता योशिहीदे सुगा ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि 9 लोगों की मौत हो गई है और स्थानीय मीडिया के मुताबिक 40 लोग लापता हैं।

स्थानीय मीडिया ने बताया कि मरने वालों में एक 82 साल के बुजुर्ग व्यक्ति शामिल हैं जो भूकंप के दौरान सीढ़ियों से गिर गए थे। करीब 130 लोगों को हल्की चोट आई है।

ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादा तबाही

कम आबादी वाले ग्रामीण इलाकों में बड़े पैमाने पर भूस्खलन की घटना हुई है। प्रभावित क्षेत्रों के हवाई सर्वेक्षण में पाया गया कि पहाड़ों के बीच स्थित दर्जनों घरों को क्षति पहुंची है । राहत और बचाव के लिए टीम हेलिकॉप्टर से लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने की कोशिश में लगे हुए हैं।

इसे भी पढ़ें- तीन देशों की यात्रा के अंतिम चरण में चेक गणराज्य पहुंचे राष्ट्रपति कोविंद

मंगलवार को आया था सबसे खतरनाक तूफान

जापान में मंगलवार को 25 साल का सबसे शक्तिशाली जेबी तूफान आया। यह तूफान इतना ताकतवर है कि आसपास के इलाकों में बड़ी बर्बादी लेकर आया। इस वजह से आसपास के इलाकों को खाली करा दिया गया है और लोगों को सुरक्षित इलाके तक पहुंचाया जा रहा है।

व्यवस्थाएं पड़ीं ठप

जापान की परमाणु नियामक अथॉरिटी ने बताया कि तोमारी परमाणु संयंत्र के तीन रियेक्टरों को बैकअप जेनरेटर की मदद से चलाया जा रहा है क्योंकि द्वीप में बिजली की आपूर्ति ठप्प पड़ गई है और यातायात व्यवस्था चरमरा गई है। भूकंप की वजह से सपोरो में फोन सेवा और टेलिविजन प्रसारण भी प्रभावित हुआ है।

Share it
Top