Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद विपक्ष के हमले तेज, येचुरी बोले- भाजपा की ''भ्रष्ट रणनीति'' की हार हुई

कर्नाटक में मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा द्वारा विश्वास मत का सामना किये बगैर ही इस्तीफा देने के बाद भाजपा पर विधायकों की खरीद फरोख्त के आरोप लगा रहे विपक्षी दलों के हमले तेज हो गये हैं।

येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद विपक्ष के हमले तेज, येचुरी बोले- भाजपा की

कर्नाटक में मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा द्वारा विश्वास मत का सामना किये बगैर ही इस्तीफा देने के बाद भाजपा पर विधायकों की खरीद फरोख्त के आरोप लगा रहे विपक्षी दलों के हमले तेज हो गये हैं। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने इसे भाजपा की ‘भ्रष्ट रणनीति' की हार बताया।

येचुरी ने कहा ‘‘यह बताता है कि सरकार बनाने के लिये भाजपा को आमंत्रित करने का राज्यपाल का फैसला दुर्भावना से प्रेरित और संविधान के विपरीत था।'
उन्होंने कर्नाटक के राज्यपाल से इस्तीफे की मांग करते हुये कहा कि बहुमत साबित करने के लिये भ्रष्ट तरीकों को बढ़ावा देने के वास्ते बेंगलुरु में बैठे केन्द्रीय मंत्री भी इस भ्रष्टाचार के लिये समान रूप से दोषी हैं।
कर्नाटक में भाजपा की तीन दिन पुरानी सरकार गिरने पर भाकपा ने कहा कि येदियुरप्पा के आज इस्तीफे से भाजपा बेनकाब हो गयी है।
पार्टी के सचिव अतुल कुमार अन्जान ने कहा कि भाजपा ने सत्ता हासिल करने के लिये पिछले तीन दिनों में हर तरीका अपनाने की कोशिश की। इसके लिये भाजपा ने राज्यपाल का भी इस्तेमाल किया।
उन्होंने कहा ‘‘दो दिन के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने आंग्ल भारतीय समुदाय के विधायकों को नामित करने, अपनी मर्जी के अस्थाई विधानसभा अध्यक्ष को नियुक्त करने तक, हर हथकंडा भाजपा की कुत्सित कोशिशों का विरोध कर रहे विधायकों की एकजुटता के आगे नाकाम साबित हुआ।'
आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने येदियुरप्पा के इस्तीफे को कर्नाटक में लोकतंत्र नष्ट करने की भाजपा की कोशिश की नाकामी का परिणाम बताया।
केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा ‘‘गलत तरीकों से सत्ता की भूख मिटाने की भाजपा की कोशिश बेनकाब हुयी। क्या भाजपा इससे कोई सबक सीखेगी? एक बार फिर भारतीय न्यायपालिका ने लोकतंत्र की सुरक्षा की।'
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने येदियुरप्पा के इस्तीफे को धनबल की जगह जनमत की जीत बताया। उन्होंने कहा ‘‘आज का दिन भारतीय राजनीति में धनबल की जगह जनमत की जीत का दिन है।'
उन्होंने कहा ‘‘सबको खरीद लेने का दावा करने वालों को आज ये सबक मिल गया है कि अभी भी भारत की राजनीति में ऐसे लोग बाकी हैं, जो उनकी तरह राजनीति को कारोबार नहीं मानते हैं।'
यादव ने नैतिकता का हवाला देते हुये केंद्र सरकार को इस्तीफ़ा देने की नसीहत दी। उन्होंने कहा ‘‘नैतिक रूप से तो केंद्र की सरकार को भी इस्तीफ़ा दे देना चाहिए।'
बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि अल्पमत में होते हुये भी बहुमत साबित करने की भाजपा की कोशिश नाकाम हुयी। भाजपा हर तरह के हथकंडे अपना कर हर राज्य की विधानसभा में जबरन सत्ता पर काबिज होने की कोशिश कर रही है।
उन्होंने कहा ‘‘यह सब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मिलीभगत से हो रहा है। इसके लिये केन्द्र सरकार की मशीनरी का बड़े पैमाने पर दुरुपयोग हो रहा है। कर्नाटक में भी यह बात उजागर हुयी।'
मायावती ने कहा कि राज्यपालों को दबाव में रखा जा रहा है। राज्यपाल स्वतंत्र रूप से काम नहीं कर पा रहे हैं। यह कर्नाटक में भी देखने को मिला है।
उन्होंने कहा ‘‘मैं समझती हूं कि अगर कर्नाटक या अन्य राज्यों के राज्यपाल खुल कर काम नहीं कर पा रहे हों और केन्द्र सरकार के दबाव में हों तो उन्हें पद से इस्तीफा दे देना चाहिये।'
समाजवादी नेता शरद यादव ने भी येदियुरप्पा के इस्तीफे को लोकतंत्र की जीत बताया। उन्होने कहा ‘‘भाजपा सभी हथकंडे अपनाकर सरकार नहीं बना पायी। यह लोकतंत्र और विपक्षी दलों की एकजुटता की बड़ी जीत है।'
यादव ने कहा कि लोकतंत्र में विश्वास बरकरार रखने के लिये राज्यों में राज्यपालों को सरकार के गठन हेतु किसी भी दल को आमंत्रित करने के लिये एकसमान मानक अपनाना चाहिये।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top