Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आद्या के पिता ने किया खुलासा, फोर्टिस अस्पताल ने कानूनी कार्रवाई रोकने के लिए किया ये शर्मनाक काम

अस्पताल की लापरवाही है से नन्हीं सी आद्या की मौत हो गई थी।

आद्या के पिता ने किया खुलासा, फोर्टिस अस्पताल ने कानूनी कार्रवाई रोकने के लिए किया ये शर्मनाक काम

गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल के बारे में एक चौंका देने वाली बात सामने आई है। दरअसल अस्पताल की लापरवाही है से नन्हीं सी आद्या की मौत हो गई थी। आद्या के पिता जयंत सिंह का कहना है कि अस्पताल ने उन्हें कोई भी कानूनी कार्रवाई करने से रोकने के लिए 25 लाख रुपए देने को कहा था।

इसके साथ ही उन्हें अस्पताल के खिलाफ उनके सोशल मीडिया कैंपेन को रोकने के लिए भी पैसे ऑफर किए गए।
जयंत ने कहा कि फोर्टिस के वरिष्ठ सदस्यों ने मुझसे मुलाकात की और मुझे 10,37,889 रुपए वापस देने का ऑफर दिया। ये वो पैसे हैं जो मैंनें बेटी के इलाज में लगाए थे।
क्या है मामला
दिल्ली निवासी आद्या सिंह को 27 अगस्त को तेज बुखार आया। पिता जयंत सिंह उसे द्वारका सेक्टर-12 के रॉकलैंड अस्पताल में लेकर गए तो वहां पता चला कि अद्या को टाइप-4 का डेंगू है। रॉकलैंड के डॉक्टरों ने उसे वहां से शिफ्ट करने की सलाह दी। जयंत उसी दिन आद्या को गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल लेकर गए। वहां उसे वेंटिलेटर पर रखा गया। 14 सितंबर को बच्ची को फोर्टिस से रॉकलैंड में शिफ्ट किया गया तो उसे बिना उपकरणों वाली एम्बुलेंस में भेजा गया। उसी दौरान आद्या की मौत हो गई।
Loading...
Share it
Top