Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारत और अमेरिका को खुश करने के लिए पाक हम पर कर रहा कार्रवाई: हाफिज

लश्कर-ए-तैयबा जैसे खूंखार आतंकी संगठन के सरगना हाफिज सईद ने कहा कि वो सरकार की कार्रवाई को कोर्ट में चुनौती देगा।

भारत और अमेरिका को खुश करने के लिए पाक हम पर कर रहा कार्रवाई: हाफिज

अपने दो संगठनों पर पाकिस्तान सरकार की सख्त कार्रवाई के बाद हाफिज सईद ने पाकिस्तान सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

सईद ने कहा है कि पाकिस्तान सरकार भारत और अमेरिका को खुश करने के लिए उसके संगठनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर रही है।

लश्कर-ए-तैयबा जैसे खूंखार आतंकी संगठन के इस सरगना ने कहा कि वो सरकार की कार्रवाई को कोर्ट में चुनौती देगा।

बता दें कि दुनिया भर से पड़ रहे दबाव के बाद पाकिस्तान सरकार ने हाफिज के जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन को अपने कब्जे में ले लिया है।

इसे भी पढ़ें- 26/11 हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद पर कसा शिकंजा, मदरसों और संगठनों पर पाक की कार्रवाई

हिंसा न करें समर्थक

सईद ने अपने समर्थकों के लिए एक मैसेज जारी किया है। इसमें उसने कहा है कि कोई भी समर्थक सरकार की कार्रवाई के विरोध में हिंसा का सहारा न लें।

भारत के इस मोस्ट वॉन्टेड आतंकी ने कहा- हमारे लिए ये बहुत मुश्किलों वाला वक्त है लेकिन, समर्थकों को शांत रहना चाहिए।

राजा की तरह बर्ताव कर रही सरकार

सईद ने कहा कि पाकिस्तान की सरकार किसी राजा की तरह बर्ताव कर रही है। भारत खुद तो कश्मीर में यूएन की सिफारिशें लागू नहीं करता लेकिन हमारे राष्ट्रपति देशभक्त संगठनों के खिलाफ कार्रवाई की इजाजत देते हैं।

कोर्ट ने कर दिया बरी

सईद ने आरोप लगाया कि सरकार ने मुझे बेवजह 10 महीने तक हिरासत में रखा। जब सबूत नहीं थे तो कोर्ट ने बरी कर दिया। अब किस मुंह से सरकार कार्रवाई कर रही है।

पाकिस्तान खौफ में क्यों?

पेरिस में अगले महीने यूएन की ‘फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स’ की बड़ी मीटिंग होने वाली है। इसमें उन मुल्कों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के आदेश दिए जा सकते हैं जो आतंकियों या उनसे जुड़े संगठनों को फंडिंग करते हैं या इनके खिलाफ कार्रवाई नहीं करते।

जांच की अनुमति नहीं दी पाक ने

गौरतलब है कि पिछले महीने यूएन की एक टीम पाकिस्तान गई थी। वो हाफिज सईद के तमाम संगठनों की जांच करना चाहती थी। लेकिन, पाकिस्तान ने उन्हें इसकी इजाजत नहीं दी।

तो खड़ा हो जाएगा भुखमरी का संकेत

जांच की इजाजत नहीं मिलने के बाद खबर आई कि अमेरिका पाकिस्तान को आतंकियों के मददगार देश के तौर पर ‘ग्लोबल वॉच लिस्ट’ में डाल सकता है। अगर ऐसा होता है तो पहले ही खस्ताहाल अर्थव्यवस्था को ढो रहे पाकिस्तान के सामने भुखमरी का संकट खड़ा हो जाएगा।

क्या कार्रवाई हुई?

हाफिज सईद चंदा उगाही कर पाकिस्तान में कई मदरसे, अस्पताल और दूसरे समाजसेवा के काम करने का दावा करता है। ये काम वो जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन के बैनर तले करता है जिन पर सरकार ने कब्जा कर लिया है।

नहीं ले सकेंगे चंदा

पाकिस्तान सरकार का दावा है कि उसने हाफिज सईद के तमाम संगठनों को अपने कब्जे में ले लिया है। अब ये संगठन किसी तरह का चंदा नहीं ले सकेंगे और न ही इनका ऑपरेशन उसके हाथ में होगा।

Next Story
Top