Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आयकर चोरी में फंसे कांग्रेस प्रवक्ता, लगा 57 करोड़ का जुर्माना

पूरा विवाद सिंघवी के 2012 की आयकर देनदारी को लेकर है

आयकर चोरी में फंसे कांग्रेस प्रवक्ता, लगा 57 करोड़ का जुर्माना
नई दिल्ली. कांग्रेस नेता और मशहूर वकील अभिषेक मनु सिंघवी पर आयकर विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है। आयकर विभाग के सैटलमेंट कमीशन (आइटीएससी) ने पिछले तीन सालों की उनकी प्रोफेशनल इनकम 91.95 करोड़ रुपए कम दिखाने के लिए 56.67 करोड़ का जुर्माना लगाया है। अपने ऊपर हुई इस कार्रवाई से अभिषेक ने सफाई देते हुए कहा है कि ये राजनीतिक फायदे के लिए आरोप लगाए जा रहे हैं।
मामला कोर्ट में है इसलिए इसपर चर्चा उचित नहीं है। लेकिन बीजेपी ये अच्छा मौका हाथ से जाने के देती बीजेपी ने कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी पर निशाने साधा है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि सिंघवी कह रहे हैं कि उनके इनकम टैक्स के पुराने कागजात दीमक खा गए, दरअसल कांग्रेस ही दीमक है।
पूरा विवाद सिंघवी के 2012 की आयकर देनदारी को लेकर है। इनकम टैकेस विभाग को सिंघवी ने दलील दी कि अपने स्टाफ के लिए उन्होंने तीन साल में 5 करोड़ के लैपटॉप खरीदे हैं। इसे मानें तो तीन साल में करीब चालीस हजार के हिसाब से सिंघवी ने अपने 14 कर्मचारियों के लिए 1250 लैपटॉप खरीदे होंगे। सिंघवी आयकर भुगतान के लिए इन्हीं लैपटॉप की खरीद पर 30 फीसदी छूट मांग रहे थे। साथ ही इनकम टैक्स विभाग को भेजे जवाब में सिंघवी ने ये भी दलील दी कि 2012 के दिसंबर में उनके आय से जुड़े कागज दीमक खा गए। इसी कारण वो अपनी आय के मुताबिक जरूरी कागज जमा नहीं कर पाए है। आयकर विभाग ने सिंघवी की इस दलील को ना मानते हुए उनपर 56 करोड़ 67 लाख का जुर्माना ठोक दिया है।
इसके अलावा नोट बंदी पर भी सरकार की नजर लगी हुई है। देश के दूर दराज इलाकों में नए नोट की आपूर्ति के लिए एयरफोर्स की मदद ली जा रही है। आयकर विभाग जगह जगह छापा मार रहा है। कई जगहों से काला धन जब्त होने की भी खबर सामने आ रही हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top