logo
Breaking

अभिनंदन को इस्लामाबाद से वाघा बॉर्डर तक लाने के लिए इस भारतीय को मिली जिम्मेदारी

भारत के जांबाज विंग कमांडर अभिनंदन आज पाकिस्तान से हिंदुस्तान की सरजमीं यानी अपने वतन आएंगे। पूरे देश की निगाहें वाघा बॉर्डर पर टिकी हैं क्योंकि वाघा बॉर्डर से ही अभिनंदन अपने वतन लौटेंगे।

अभिनंदन को इस्लामाबाद से वाघा बॉर्डर तक लाने के लिए इस भारतीय को मिली जिम्मेदारी

भारत के जांबाज विंग कमांडर अभिनंदन आज पाकिस्तान से हिंदुस्तान की सरजमीं यानी अपने वतन आएंगे। पूरे देश की निगाहें वाघा बॉर्डर पर टिकी हैं क्योंकि वाघा बॉर्डर से ही अभिनंदन अपने वतन लौटेंगे।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरुवार को पाकिस्तानी संसद में ऐलान किया था कि वे पायलट अभिनंदन को शुक्रवार को रिहा कर देंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में भारतीय ग्रुप कैप्टन जेडी कुरियन अभिनंदन को लेकर आएंगे।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह समेत भारतीय वायुसेना के बड़े अधिकारी और मोदी सरकार के कई मंत्री भी अभिनंदन का स्वागत करने के लिए बाघा बॉर्डर पहुंचेंगे। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर लिखा कि प्रिय मोदी जी मैं पंजाब के सीमावर्ती इलाकों का दौरा कर रहा हूं और मैं इस समय अमृतसर में हूं।

मालूम हुआ है कि पाकिस्तान सरकार ने वाघा से अभिनंदन को भेजने का फैसला लिया है। यह मेरे लिए गर्व की बात होगी कि मैं उनके स्वागत में वहां रहूं और उनका स्वागत करूं, क्योंकि वह और उसके पिता एनडीए के पूर्व छात्र हैं।

Loading...
Share it
Top