Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आरुषि-हेमराज हत्याकांड: जेल से रिहा होने के बाद, तलवार दंपत्ति ने कही ये चौंका देने वाली बात

तलवार दंपत्ति सोमवार को डासना जेल से रिहा हुई।

आरुषि-हेमराज हत्याकांड: जेल से रिहा होने के बाद, तलवार दंपत्ति ने कही ये चौंका देने वाली बात

आरुषि-हेमराज दोहरे हत्याकांड मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने राजेश और नूपुर तलवार को बरी कर दिया है। तलवार दंपत्ति शाम 5 बजे डासना जेल से रिहा हो गई। आरुषि हत्याकांड मामले में तलवार दंपत्ति चार साल तक जेल में रही।

जेल से रिहा होने के बाद तलवार दंपत्ति जलवायु विहार स्थित नूपुर के माता-पिता के घर पहुंची। वहां पहुंचने के बाद नूपुर की मां लता चिटनिस ने राजेश और नूपुर की आरती उतारी । परिवार के लोगों ने दोनों का स्वागत किया।
नूपुर अपनी मां को गले लगाकर रोने लगीं और कहा कि चार साल बहुत भारी गुजरे। दिन तो जेल में कट जाते थे पर रात में सिर्फ आरुषि की यादें ही सहारा होती थीं। राजेश तलवार मे बोला कि आगे क्या करना है हमनें ये अभी तक नहीं सोचा, पर अब कुछ शांति चाहिए। राजेश तलवार ने कहा कि आरुषि की याद में कुछ करना है।
नूपुर ने कहा कि बाहरी दुनिया हमें भले ही शक की नजरों से देखती थी लेकिन मुश्किल हालातों में जेल के लोगों ने हमारा साथ दिया।
ये है पूरा मामला
2008 मई में तलवार दंपत्ति के घर पर उनकी बेटी आरुषि और नौकर हेमराज की लाश मिली थी। गाजियाबाद की विशेष सीबीआई कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई की। सबूतों के आधार पर तलवार दंपत्ति को दोषी माना गया। 28 नवंबर 2013 को तलवार दंपत्ति को उम्र कैद की सजा सुनाई गई।
जिसके बाद तलवार दंपत्ति को नवंबर 2013 में डासना जेल भेज दिया गया। 12 अक्टूबर 2017 को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने तलवार दंपत्ति को बरी कर दिया। सोमवार को तलवार दंपत्ति जेल से रिहा हो गई।
Share it
Top