Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

AAP नेता संजय सिंह ने EC पर साधा निशाना, बताया बीजेपी का एजेंट

आप नेता संजय सिंह ने लखनऊ में 20 विधायकों को अयोग्य घोषित किए जाने पर चुनाव आयोग के फैसले को गलत कहा।

AAP नेता संजय सिंह ने EC पर साधा निशाना, बताया बीजेपी का एजेंट

विधायकों के लाभ का पद मामले पर आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग पर सवालों से निशाना साधा है। आप पार्टी ने कहा कि चुनाव आयोग ने संविधान और नियमों को ताक पर रखकर फैसला दिया है।

आप नेता संजय सिंह ने लखनऊ में 20 विधायकों को अयोग्य घोषित किए जाने पर चुनाव आयोग के फैसले को गलत कहा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार लोकतंत्र की हत्या करने में जुटी है और चुनाव आयोग ने कानून और नियमों को ताक पर रख फैसला दिया है।
संजय सिंह ने कहा कि चुनाव आयोग भारतीय जनता पार्टी के एजेंट के तौर पर काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट के फैसलों और निर्देशों को किनारे कर शुक्रवार को अपना फैसला सुना दिया है। उन्होंने कहा कि फैसले के पहले विधायकों को अपना पक्ष रखने का भी मौका नहीं दिया। ये 20 विधायकों के साथ अन्याय है।

संजय सिंह ने चुनाव आयोग से पार्टी विधायकों द्वारा संसदीय सचिव के तौर पर उठाए गए लाभ की जानकारी मांगी है। उन्होंने कहा कि हमारे सारे विधायक ईमानदार हैं और उन्हें संसदीय सचिव रहते हुए क्या फायदा मिला, इसकी जानकारी दी जाए। चुनाव आयोग के फैसले पर विरोध जताते हुए संजय सिंह ने कहा कि देश में आपातकाल जैसे हालात पैदा हो गए हैं।
संजय सिंह ने कहा कि 2006 में दिल्ली सरकार में शीला दिक्षित ने 19 विधायकों को लाभ का पद दिया। झारखंड और छत्तीसगढ़ में भी संसदीय सचिव पर विधायकों की नियुक्ति की गई। हरियाणा में 4 विधायकों को संसदीय सचिव बनाया गया। बंगाल और पंजाब में भी ऐसा ही हुआ। हिमाचल में 11 संसदीय सचिव को लाभ का पद दिया गया।
संजय सिंह ने कहा कि देश के अन्य राज्यों में हाईकोर्ट ने संसदीय सचिवों के पद को रद्द किया लेकिन चुनाव आयोग ने कभी भी किसी की सदस्यता रद्द नहीं की। संजय सिंह ने कहा कि सोमवार को हाईकोर्ट में केस की सुनवाई है और पार्टी को राहत मिलेगी।
Next Story
Share it
Top