Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

95% भारतीय यहां रखते हैं अपनी दौलत

इस बात का खुलासा सेबी इंवेस्टर्स सर्वे में हुआ है। इसमें यह भी बताया गया है कि लोग कहां निवेश करते हैं।

95% भारतीय यहां रखते हैं अपनी दौलत

नील्सन इंडिया द्वारा किए गए निवेशकों के सर्वेक्षण ‘सेबी इंवेस्टर्स सर्वे 2015’ की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि अधिकतर भारतीय अपनी मेहनत की गाढ़ी कमाई बैंकों में रखना पसंद करते हैं और केवल 5 फीसदी ही निवेश करते हैं।

ये आंकड़ें इसलिए चौकाने वाले हैं कि आज देश में कई ऐसे सेक्टर हैं, जहां पर निवेश करके अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है।

अधिकतर भारतीय अपनी कमाई को जीवन बीमा, म्युचुअल फंड और शेयर बाजार के बजाय बैंकों में जमा कराना पसंद करते हैं।

नील्सन इंडिया द्वारा किए गए निवेशकों के सर्वेक्षण ‘सेबी इंवेस्टर्स सर्वे 2015’ रिपोर्ट से यह बात सामने आई है कि 95 फीसदी से अधिक भारतीय घर बैंक खातों में अपने पैसे जमा करते हैं। दस फीसदी से भी कम घर ऐसे हैं, जो म्युचुअल फंड या शेयर बाजार में पैसे निवेश करते हैं।

देश के शहरी और ग्रामीण इलाकों में किए गए सर्वेक्षण के मुताबिक भारतीयों के लिए जीवन बीमा निवेश का दूसरा पसंदीदा तरीका है। इसके बाद निवेशकों के लिए पसंदीदा पांच तरीकों में कीमती धातु, डाकघर बचत खाते और रियल एस्टेट हैं। शहरी इलाकों में म्युचुअल फंड में निवेश (9.7 फीसदी) छठे स्थान और शेयर बाजार (8.1 फीसदी) सातवें स्थान पर हैं। इसके बाद पेंशन योजनाएं, कंपनी डिपोजिट, डिबेंचर, डेरिवेटिव्स और कमोडिटी वायदा (एक प्रतिशत) है।

ग्रामीण इलाकों में किए गए सर्वेक्षण में एक प्रतिशत से कम घर निवेशक हैं। यहां तक कि म्युचुअल फंड और शेयरों के बारे में जानकारी भी मात्र 1.4 प्रतिशत लोगों को ही थी। हालांकि, ग्रामीण इलाकों में 95 फीसदी का कहना था कि उनके पास बैंक खाते हैं, 47 फीसदी के पास जीवन बीमा है , 29 फीसदी के पास डाकघर बचत और 11 फीसदी कीमती धातुओं में निवेश किए हुए हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top