Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

1 अप्रैल से प्राकृतिक गैस 9 फीसदी सस्ती, एशिया में सबसे कम कीमत

एक अप्रैल से घरेलू प्राकृतिक गैस के दाम नौ प्रतिशत घटकर 4.56 डालर प्रति इकाई रह जाएंगे जिससे बिजली एवं उर्वरक क्षेत्र को काफी फायदा होगा।

1 अप्रैल से प्राकृतिक गैस 9 फीसदी सस्ती, एशिया में सबसे कम कीमत
X

नई दिल्ली.अंतरराष्ट्रीय बाजार में नरमी के बीच पहली बार घरेलू प्राकृतिक गैस मूल्य में भी कटौती की जा रही है। एक अप्रैल से घरेलू प्राकृतिक गैस के दाम नौ प्रतिशत घटकर 4.56 डालर प्रति इकाई रह जाएंगे जिससे बिजली एवं उर्वरक क्षेत्र को काफी फायदा होगा।

चेक और कार्ड से लगेगी कालेधन पर लगामः अरूण जेटली

सरकार ने पिछले साल अक्टूबर में विभिन्न अंतरराष्ट्रीय केंद्रों के औसत मूल्य के आधार पर प्राकृतिक गैस की कीमत सकल क्लेरॉफिक मूल्य (जीसीवी) के आधार पर 5.05 डालर प्रति दस लाख ब्रिटिश थर्मल यूनिट (एमएमबीटीयू) तय की थी।एक शीर्ष पदस्थ सूत्र ने कहा, इसी जीसीवी मूल्य के आधार पर गैस का मूल्य अब एक अप्रैल से 4.56 डालर प्रति एमएमबीटीयू होगा।

नेट क्लेरोफिक मूल्य (एनसीवी) के आधार पर यह कीमत मौजूदा 5.61 डालर से घटकर 5.01 डालर प्रति एमएमबीटीयू रह जाएगी। सूत्रों ने कहा, सरकार स्वयं गैस का मूल्य तय अथवा अधिसूचित नहीं करती है। इसके लिए पिछले साल एक फार्मूला अधिसूचित किया गया था। इसी फार्मूले के तहत एक अप्रैल से जीसीवी आधार पर गैस का मूल्य 4.56 डालर प्रति एमएमबीटीयू होगा।

फोर्ब्स की सर्वश्रेष्ठ उद्यम पूंजी निवेशकों की लिस्ट जारी, 11 इंडो-अमेरिकी भी शामिल

भारत में प्राकृतिक गैस की कीमत में यह पहली कटौती होगी। प्राकृतिक गैस के दाम में इस कटौती से तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) और रिलायंस इंडस्ट्रीज जैसे गैस उत्पादकों के राजस्व पर असर होगा लेकिन यह बिजली एवं उर्वरक क्षेत्र के उपयोक्ताओं के लिए फायदे का सौदा होगा।

मौजूदा 5.61 डालर प्रति एमएमबीटीयू की कीमत एशिया-प्रशांत क्षेत्र में सबसे कम है। चीन उत्खन्नकतार्ओं को नयी परियोजनाओं के लिए 11.9 डालर प्रति एमएमबीटीयू की कीमत देता है जबकि इंडोनेशिया और फिलिपीन में गैस की कीमत क्रमश: 11 डालर और 10.5 डालर है।

म्यांमार के अपतटीय क्षेत्रों से उत्पादित गैस जिसमें ओएनजीसी और गेल की हिस्सेदारी है, वहां से चीन को 7.72 डालर पर बिक्री हो रही है। थाइलैंड में नई परियोजनाओं के लिए गैस की कीमत 8.2 डालर प्रति एमएमबीटीयू है। सिर्फ दो ही देश वियतनाम (5.2 डालर) और मलेशिया (पांच डालर) जहां कीमत कम है।

बाजार में आएगी ऑटोमेटिक नैनो, टाटा मोटर्स कर रही है भारतीय सड़कों पर परीक्षण

6 माह में समीक्षा

पिछले साल अक्टूबर 2014 में गैस मूल्य तय करने की स्वीकृत प्रणाली के मुताबिक देश में उत्पादित गैस मूल्य की हर छह महीने में समीक्षा होगी। यह दाम अमेरिका के हेनरी हब, ब्रिटेन के नेशनल बैलेंसिंग प्वाइंट, अल्बर्टा (कनाडा) और रूस के केन्द्रों में चल रहे एक तिमाही पहले के गैस मूल्य के औसत मूल्य के आधार पर तय होंगे। इसलिए एक अप्रैल से 30 सितंबर के दाम एक तिमाही पहले की अवधि के जनवरी से दिसंबर 2014 के दौरान रहे अंतरराष्ट्रीय केंद्र के औसत मूल्य पर आधारित होंगे। सूत्रों ने बताया कि पेट्रोलियम मंत्रालय अगले कुछ दिनों में अगले छह महीने के लिए मूल्य की घोषणा कर सकता है।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, अर्थव्यवस्था के लिए अच्छा -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top