Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आसमान से हो रही मौत की बारिश, पानी ने अब तक 537 लोगों को निगला

मानसून आने के बाद से जारी बारिश से छह राज्यों में आई बाढ़ और वर्षा जनित घटनाओं में अब तक कम से कम 537 लोगों की मौत हो चुकी है।

आसमान से हो रही मौत की बारिश, पानी ने अब तक 537 लोगों को निगला
X

मानसून आने के बाद से जारी बारिश से छह राज्यों में आई बाढ़ और वर्षा जनित घटनाओं में अब तक कम से कम 537 लोगों की मौत हो चुकी है। केंद्रीय गृह मंत्रालय के नेशनल इमरजेंसी रिस्पांस सेंटर (एनईआरसी) के अनुसार बाढ़ एवं बारिश के चलते महाराष्ट्र में 138, केरल में 125, पश्चिम बंगाल में 116, गुजरात में 52 और असम में 34 लोगों की मौत हुई है।

अतिवृष्टि और बारिश से महाराष्ट्र के 26, पश्चिम बंगाल में 22, असम में 21, केरल में 14 और गुजरात में 10 जिले प्रभावित हैं। एनईआरसी के अनुसार असम में 10.17 लाख लोग बारिश एवं बाढ़ से त्रस्त हैं, जिनमें से 2.17 लाख लोग राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं। एनईआरसी के अनुसार राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की 12 टीम असम में राहत एवं बचाव कार्य में जुटी है।

एनडीआरएफ की एक टीम में 45 कर्मी होते हैं। पश्चिम बंगाल में बारिश एवं बाढ़ से कुल 1.61 लाख लोग प्रभावित हैं। राज्य में एनडीआरएफ की आठ टीम तैनात की गयी हैं। गुजरात में बाढ़ एवं बारिश से प्रभावित 15,912 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। राज्य में एनडीआरएफ की 11 टीम राहत एवं बचाव कार्य में जुटी है।

केरल में 1.43 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। भारी बारिश के कारण राज्य में 125 लोगों की मौत हुई है, जबकि नौ लोग लापता हैं। दक्षिणी राज्य में राहत एवं बचाव कार्य के लिये एनडीआरएफ की चार टीम तैनात की गयी है, जबकि तीन टीमों को महाराष्ट्र में तैयार रखा गया है।

दिल्ली-हरियाणा में हाई अलर्ट

दिल्ली-हरियाणा में हाईअलर्ट यमुना का जल स्तर खतरे के निशान के ऊपर पहुंच गया है और इसमें और अधिक बढ़ोतरी की आशंका है। मौजूदा स्थिति को देखते हुए अधिकारियों ने बाढ़ जैसी स्थिति को रोकने के लिए उचित कदम उठाने का परामर्श जारी किया है। हथिनीकुंड बैराज पर यमुना नदी का जल स्तर 90,000 क्यूसेक के खतरे के निशान को पार कर सुबह नौ बजे 2.11 लाख क्यूसेक तक पहुंच गया।

छत्तीसगढ़ का ऐसा हाल

छत्तीसगढ़ के उत्तरी-पूर्वी इलाकों के कुछ भाग तथा दक्षिणी भाग में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा तथा गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार कुछ इलाकों भारी वर्षा की संभावना है।

इन राज्यों में बाढ़ के हालात

महाराष्ट्र के 26, बंगाल के 22, असम के 21, केरल के 14 और गुजरात के 10 जिलों में बाढ़ की स्थिति है। असम सहित अन्य प्रदेशों में लाखों लोग प्रभावित हुए हैं। इनमें से ढाई लाख से ज्यादा लोग अभी भी राहत शिविरों में रह रहे हैं।

यूपी में दो दिनों में 58 मौतें

उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में गुरुवार से लगातार हो रही बारिश से 58 लोगों की मौत हो गई, जिसमें सहारनपुर में सर्वाधिक 11 लोगों की मौत हुई है। पिछले दो दिनों में अब तक 58 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है जिसमें सबसे ज्यादा 11 लोगों की मौत सहारनपुर में हुई है, जबकि मेरठ में 10 और आगरा में छह लोगों की मौत हुई है। बारिश से संबंधित हादसों में 53 लोग घायल भी हुए हैं।

आसमान से मौत की बारिश

आसमान से मौत की बारिश हो रही है, जो कि अब तक कई लोगों को अपने आगोश में ले चुकी है। कहीं मकान गिर रहे हैं तो कहीं सड़कों पर पानी काल बनकर जमा हुआ। गृह मंत्रालय के नेशनल इमरजेंसी रिस्पांस सेंटर की एक रिपोर्ट के मुताबिक देश के छह राज्यों में बारिश और बाढ़ से अब तक कम से कम 537 लोगों की मौत हो चुकी है। असम, बंगाल और गुजरात में लाखों लोग राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story