Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

EPFO के इस पहल से 5 करोड़ लोगों को होगा फायदा, ईटीएफ निवेश का पैसा सीधा पहुंचेगा अकाउंट में

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के खाताधारकों को चालू वित्त वर्ष के दौरान अपने भविष्य निधि खाते से शेयर बाजार में निवेश को तय सीमा से कम अथवा अधिक करने का विकल्प मिल सकता है।

EPFO के इस पहल से 5 करोड़ लोगों को होगा फायदा, ईटीएफ निवेश का पैसा सीधा पहुंचेगा अकाउंट में
X

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के खाताधारकों को चालू वित्त वर्ष के दौरान अपने भविष्य निधि खाते से शेयर बाजार में निवेश को तय सीमा से कम अथवा अधिक करने का विकल्प मिल सकता है। पीएफओ के पांच करोड़ से अधिक खाताधारक हैं।

ईपीएफओ की योजना तीन महीने में ईटीएफ निवेश को पीएफ खाते में जमा करने की सुविधा देने की है। ईपीएफओ के केंद्रीय भविष्य निधि आयुक्त वीपी जॉय ने कहा, ‘हमें खाताधारकों को उनका ईटीएफ निवेश पीएफ खाते में हस्तांतरित करने की सहुलियत देने के लिए सॉफ्टवेयर तैयार करना होगा। इसमें दो से तीन महीने का समय लग सकता है।’

संगठन अगले चरण में जाने तैयार

जॉय ने कहा, ‘एक बार ऐसा कर लेने के बाद हम अगले चरण में जाएंगे जिसके तहत सदस्यों को शेयर बाजारों में निवेश घटाने-बढ़ाने की सुविधा मिलेगी।’ ईपीएफओ की शीर्ष निर्णय इकाई केंद्रीय न्यासी बोर्ड (सीबीटी) ने खाताधारकों को शेयर निवेश की मौजूदा 15 प्रतिशत की अनिवार्य सीमा से अधिक या कम निवेश की सुविधा उपलब्ध कराने की संभावनाएं तलाशने की पिछले सप्ताह मंजूरी दी थी।

2015 से ईटीएफ में निवेश की शुरुआत

ईपीएफओ ने अगस्त 2015 में ईटीएफ में निवेश की शुरुआत की थी। वर्ष 2015-16 में उसने अपने निवेश योग्य जमा पूंजी का पांच प्रतिशत निवेश किया था जिसे बाद में बढ़ाकर 2016-17 में दस प्रतिशत और 2017-18 में 15 प्रतिशत कर दिया गया ।

2500 करोड़ रु. ईटीएफ बाजार में बेचे

ईपीएफओ ने ईटीएफ में अब तक कुल 41,967.51 करोड़ रुपए का निवेश किया जिस पर 28 फरवरी 2018 को 17.23 प्रतिशत का प्रतिफल प्राप्त हुआ। इस साल मार्च में संगठन ने 2,500 करोड़ रुपए के ईटीएफ बाजार में बेचे। ईटीएफ में निवेश के बाद ऐसा पहली बार किया गया।

चार फीसदी रकम ईटीएफ यूनिट के रूप में दिखेगी

अब आपकी पीएफ की रकम ईटीएफ और रुपए में दिखेगी । ईपीएफओ के सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज की बैठक में फैसला हुआ है कि फिलहाल 4 फीसदी रकम ईटीएफ यूनिट के तौर पर दिखेगी। बाकी रकम रकम कैश के तौर पर पीएफ खाते में दिखेगी। लेकिन भविष्य में ईटीएफ यूनिट का प्रतिशत बढ़ सकता है।

निजी क्षेत्र के बॉन्ड्स में भी निवेश

ईपीएफओ फिलहाल आपके फंड का 15 फीसदी ईटीएफ के जरिए शेयर बाजार में निवेश करता है। यही नहीं ईपीएफओ ने अब निजी क्षेत्र के डबल ए प्लस बॉन्ड्स में भी निवेश का फैसला किया है। इसके पहले वो ट्रिपल ए रेटिंग वाले बॉन्ड्स में ही निवेश करता था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story