Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उत्तर से दक्षिण तक तूफान का कहर, देशभर में 40 से अधिक लोगों की मौतें, कई घायल

मौसम में आए अचानक बदलाव और अंधड़ तूफान की वजह से उत्तर से दक्षिण भारत तक भारी नुकसान की खबर है। अब तक 40 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

उत्तर से दक्षिण तक तूफान का कहर, देशभर में 40 से अधिक लोगों की मौतें, कई घायल
X

मौसम में आए अचानक बदलाव और अंधड़ तूफान की वजह से उत्तर से दक्षिण भारत तक भारी नुकसान की खबर है। अब तक 40 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली में मेट्रो, रेलवे और विमान सेवाओं पर असर पड़ा है। 9 विमानों की आपात लैंडिंग कराई गई और 70 विमानों का रास्ता बदला गया।

अबतक यूपी में 21, बंगाल में 12 और दिल्ली में 2 लोगों की मौत हुई है। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में आकाशीय बिजली की चपेट में आकर 9 लोगों की मौत हुई है। दिल्ली-एनसीआर में धूल भरी आंधी और बारिश की वजह से करीब 70 उड़ानों के मार्ग बदलने पड़े हैं।

उत्तर प्रदेश के तमाम हिस्सों में आंधी और बारिश से 28 अन्य घायल भी हुए हैं। प्रमुख सचिव (सूचना) अवनीश अवस्थी ने बताया कि कासगंज में चार लोगों के, बुलंदशहर में दो, कन्नौज, अलीगढ़, संभल, गाजियाबाद और नोएडा में एक-एक व्यक्ति के मारे जाने की खबर है।

यह भी पढ़ेंः आंध्र प्रदेश में बारिश और तूफान का कहर, 8 लोगों की मौत

उन्होंने बताया कि संभल में 13 लोग घायल हुए जबकि औरैया में 12 और बुलंदशहर में तीन लोग घायल हुए हैं। यूपी के संभल में ट्रैक्टर पर पेड़ गिर जाने की वजह से एक शख्स की मौत हो गई है।

गाजियाबाद के लाल कुआं के पास भी इको कार पर एक पेड़ गिर जाने से एक शख्स की मौत हो गई। इस दुर्घटना में चार से पांच लोग घायल भी हुए हैं। यूपी के रामपुर में आंधी-तूफान के खतरे को देखते हुए सोमवार को स्कूल बंद करने का आदेश दे दिया गया है।

बिजली गिरने की वजह से बुलंदशहर के गांव में झोपड़ियों में आग भी लग गई।

यह भी पढ़ेंः उत्तर प्रदेश में भयानक आंधी और बारिश, 11 लोगों मौत 28 घायल, CM योगी ने दिए राहत कार्य के निर्देश

कई जगह गिरे पेड़

तेलंगाना व आंध्र प्रदेश में रविवार को आकाशीय बिजली की चपेट में आने से तीन किसानों सहित नौ लोगों की मौत हो गई। तेलंगाना के मंचेरिअल जिले में रविवार की सुबह आकाशीय बिजली के चपेट में आने से तीन किसानों की मौत हो गई जबकि आंध्र प्रदेश के उत्तर तटवर्ती श्रीकाकुलम जिले में छह लोगों की मौत हो गई।

कंट्रोल रूम में फोन पर फोन

आंधी तूफान के दौरान पूरी दिल्ली से पुलिस कंट्रोल रूम में कुल 260 कॉल्स आईं। जानकारी के मुताबिक तेज हवा की चपेट में आकर 189 पेड़ गिरे, 40 जगहों पर खंभे और 31 जगहों पर दीवारें गिर गईं हैं।

पांडव नगर में एक पेड़ की चपेट में आकर महिला की मौत हो गई है। इसके अलावा अलग-अलग जगहों पर 19 लोगों को मामूली चोटें भी आईं हैं।

यह भी पढ़ेंः उत्तर प्रदेश में भयानक आंधी और बारिश, 11 लोगों मौत 28 घायल, CM योगी ने दिए राहत कार्य के निर्देश

आपात लैंडिंग

आंधी तूफान की वजह से दिल्ली जाने वाली 9 विमानों को लखनऊ के चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर आपातकालीन लैंडिंग करानी पड़ी है। एयर ट्रैफिक कंट्रोल ने खराब मौसम की वजह से इन फ्लाइट को दिल्ली में लैंड करने की अनुमति नहीं दी, इसलिए यह कदम उठाना पड़ा।

70 विमानों का रूट बदला

धूल भरी आंधी और बारिश के कारण रविवार शाम इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से 70 उड़ानों के मार्ग बदलने पड़े हैं। अधिकारियों ने संचालन में बाधा के लिए खराब दृश्यता व तेज हवाओं का हवाला दिया है।

धूल भरी आंधी के साथ 70 किमी प्रति घंटा की रफ्तार वाली हवा ने राजधानी व आसपास के इलाकों में सड़क यातायात और मेट्रो सेवा को प्रभावित किया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story