Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

LoC पर मुठभेड़ में 3 जवान शहीद, 1 के शव को क्षत-विक्षत किया

सेना को इस घटना के बाद जवाबी कार्रवाई करने को कहा गया है।

LoC पर मुठभेड़ में 3 जवान शहीद, 1 के शव को क्षत-विक्षत किया
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास एक बार फिर आतंकियों की कायराना हरकत सामने आई है। एलओसी के पास माछल में पाकिस्तानी सेना के कमांडो ने तीन भारतीय जवानों की हत्या कर दी। सीमा पर पाकिस्तानी सैनिकों ने कायराना हरकत करते हुए एक शहीद भारतीय जवान के शव को क्षत-विक्षत कर दिया। सेना ने कहा है कि इस कायरतापूर्ण हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। माना जाता है कि घुसपैठिये पाकिस्तानी सेना की बॉर्डर एक्शन टीम के सदस्य थे और संभवत: वे बचकर निकल गए।
सेना ने मामले की जानकारी रक्षा मंत्री को दे दी है
सेना ने मामले की जानकारी रक्षा मंत्री को दे दी है। सेना को इस घटना के बाद जवाबी कार्रवाई करने को कहा गया है। पाक सेना की इस कार्रवाई का भारतीय सुरक्षा विशेषज्ञों ने कड़ी निंदा की है। विशेषज्ञों ने इसे जिनेवा कन्वेंशन का उल्लघंन बताया है।
तीन जवान पेट्रोलिंग पर जा रहे थे
घटना 11 बजे सुबह की है। आर्मी को जानकारी मिली थी कि घुसपैठ हो सकती है। इसी दौरान जब तीन जवान पेट्रोलिंग पर जा रहे थे तो घात लगाए आतंकियों ने उन पर हमला किया। इस दौरान वे एक सैनिक का सिर काटकर अपने साथ ले गए। यह जवान राष्ट्रीय राइफल्स का था। इसके बाद उस जगह पर दोनों ओर से फायरिंग हो रही है।
पिछले महीने भी एक भारतीय जवान के शव के साथ बर्बर व्यवहार
पिछले महीने भी एक भारतीय जवान के शव के साथ बर्बर व्यवहार किया गया था। आतंकियों ने सेना के जवान मनदीप सिंह के शव को क्षत-विक्षत कर दिया था और पाकिस्तानी सेना की फायरिंग की आड़ में वे पाक अधिकृत कश्मीर में वापस घुस गए थे। भारतीय चौकियां पाकिस्तान सीमा के करीब हैं और बीहड़ इलाके तथा घने जंगल होने के कारण घुसपैठियों को फायदा मिल जाता है।
सर्जिकल स्ट्राइक के बाद 17 भारतीय जवान शहीद
आपको बता दें सितंबर में नियंत्रण रेखा के पार भारतीय सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान की तरफ से बार-बार की जा रही फायरिंग में 17 भारतीय जवान शहीद हो चुके हैं। पिछले एक महीने के अंदर पाकिस्तान सेना की इस तरह की ये दूसरी घृणित कार्रवाई है।
बता दें जल्द ही पाकिस्तानी सेना के जनरल रहील शरीफ रिटायर होने वाले हैं। रहील ने कुछ दिन पहले ही सीमा पर पाक सैनिकों के साथ बैठक की थी। उसके बाद यह घटना हुई है। रहील को भारत का सख्त विरोधी माना जाता है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top