Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ब्लू वेल गेम का खूनी खेल जारी, अब 3 बच्चियों ने काटे हाथ

आईआईटी कैंपस के एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाई कर रही तीन लड़कियों के हाथ पर ब्लू वेल के निशान मिले हैं।

ब्लू वेल गेम का खूनी खेल जारी, अब 3 बच्चियों ने काटे हाथ
X

भारत में ब्लू वेल गेम का खूनी खेल जारी है। अब बंगाल के मिदनापुर में फिर देखने को मिला। आईआईटी कैंपस के एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाई कर रही तीन लड़कियों के हाथ पर ब्लू वेल के निशान मिले हैं। तीनों बच्चियों के बाएं हाथ पर कलाई के पास ब्लू वेल से मिलते हाथ काटने के निशान हैं।

इसे भी पढ़ें: 50 के बाद मार्केट में आ रहा है 200 का नया नोट

तीनों लड़कियां सातवीं की स्टूडेंट हैं। सबसे पहले उनके हाथ पर निशान स्कूल ही की एक टीचर ने देखा था। स्कूल टीचर ने तत्काल इस बारे में प्रिंसिपल को सूचना दी। स्कूल प्रिंसिपल के एन गौतम ने तीनों लड़कियों के पैरंट्स से इस बारे में बात की।

बच्चियों के पैरंट्स का कहना है कि उन्हें इस बारे में जानकारी नहीं है कि उनकी बच्चियां ब्लू वेल खेल रही थीं। प्रिंसिपल ने पैरंट्स से बच्चियों से इस बारे में धैर्य के साथ बात करने के लिए कहा। साथ ही तीनों लड़कियों को 3 दिनों तक स्कूल नहीं भेजने का भी निर्देश दिया।

आईआईटी खड़गपुर से होगी काउंसिलिंग

प्रिंसिपल के एन गौतम ने बताया, 'मैं पूरे विश्वास के साथ नहीं कह सकता हूं कि यह ब्लू वेल खेलने की घटना के कारण ही हुआ, लेकिन मुझे स्कूल के स्टूडेंट्स की चिंता है। मैं इसके लिए आईआईटी खड़गपुर के काउंसलरों की सहायता से स्कूल में वर्कशॉप का आयोजन करूंगा।

बता दें कि मिदनापुर के ही 10वीं के स्टूडेंट अंकन देव की मौत रहस्यमय परिस्थितियों में हुई थी। उस वक्त भी ऐसी खबरें थीं कि ब्लू वेल चैलेंज खेलते हुए ही उसने आत्महत्या कर ली।

इसे भी पढ़ें: तीन तलाक: विशेषज्ञों ने बताया सुप्रीम कोर्ट के फैसले से ऐसे आएगा बड़ा बदलाव

मिदनापुर पुलिस ने हालांकि मौत और ब्लू वेल के बीच किसी कनेक्शन से इनकार किया था। हालांकि, अभी तक पुलिस बच्चे की मौत के बारे में कोई स्पष्ट तर्क नहीं दे सकी है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story