Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इस वजह से 26 नवंबर को मनाया जाता है संविधान दिवस

देश में गणतंत्र दिवस हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है। ऐसा इस लिए क्योंकि इस दिन हमारा संविधान लागू हुआ था। लेकिन संविधान दिवस हर साल 26 नवंबर को मनाया जाता है। कई बार आपके मन में यह सवाल आता है कि आखिर ऐसा क्यों?

इस वजह से 26 नवंबर को मनाया जाता है संविधान दिवस
26/11 का दिन देश के लिए कई मामलों में खास है। आज देश एक ओर जहां 26/11 मुंबई अटैक की 10वीं बरसी मना रहा है तो वहीं दूसरी ओर देश संविधान दिवस को भी मना रहा है।
देश में गणतंत्र दिवस हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है। ऐसा इस लिए क्योंकि इस दिन हमारा संविधान लागू हुआ था। लेकिन संविधान दिवस हर साल 26 नवंबर को मनाया जाता है। कई बार आपके मन में यह सवाल आता है कि आखिर ऐसा क्यों? तो हम आपको बता रहे हैं संविधान दिवस को मनाने की वजह।
29 अगस्त 1949 को भारतीय संविधान समिति की स्थापना की गई जिसका अध्यक्ष डॉ. भीमराव अंबेडकर को बनाया गया। भारत के संविधान निर्माता के रूप में डॉ. भीमराव अंबेडकर को जाना जाता है। इन्होंने दुनिया के सबसे बड़े संविधान को तैयार किया।
448 अनुच्छेद, 12 अनुसूचियां और 94 संशोधन के साध भारतीय संविधान दुनिया का सबसे बड़ा संविधान है। दुनिया के बाकी देशों के संविधान को परखने के बाद भारत का संविधान बनाया गया। इसे तैयार करने में 2 साल 11 महीने और 17 दिन का वक्त लगा। यह हस्तलिखित संविधान है जिसमें 48 आर्टिकल शामिल हैं।
26 नवंबर 1949 को भारतीय संविधान सभा ने इसे अपनाया। और 26 जनवरी 1950 को इसे लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के साथ लागू किया गया। यही वजह है कि 26 नवंबर को देश में संविधान दिवस मनाया जाता है।
देश में हर साल 26 नवंबर को संविधान दिवस मनाया जाता है। इस दिन को संविधान निर्माता डॉं.भीमराव अंबेडकर को याद किया जाता है।
Share it
Top