Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गुजरात: सूरत में जहरीली शराब पीने से 15 की मौत

मौत के बढ़ते आंकड़े देखकर गांव वाले दहशत में हैं

गुजरात: सूरत में जहरीली शराब पीने से 15 की मौत
अहमदाबाद. गुजरात के सूरत में कथित तौर पर ज़हरीली शराब पीने से 15 लोगों की मौत हुई है। चार लोग अब भी अस्पताल में भर्ती हैं जिनका इलाज जारी है। राज्य सरकार ने इस हादसे की जांच के लिए एक कमेटी गठित कर दी है।
घटना ज़िले के वराली गांव की है। हालांकि सरकारी अधिकारियों का कहना है कि मारे गए लोगों के विसरे की फोरेंसिक जांच की जा रही है जिसकी रिपोर्ट आने के बाद ही आधिकारिक रूप से कुछ कहा जा सकेगा।
आजादी के बाद से बैन है गुजरात में शराब
गुजरात में देश की आजादी के बाद से ही शराब पर पाबंदी है। लेकिन पाबंदी के पीछे गुजरात में सालों से शराब का अवैध कारोबार चलता आ रहा है। ये बात किसी से छुपी नहीं है। लेकिन कार्रवाई सिर्फ फाइलों में दबकर रह जाती है।
मरने वालों में महिला भी शामिल
सूरत जिले के वरेली गांव जहरीली शराब पीने से 15 लोग दम तोड़ चुके हैं। मरनवालों में एक महिला भी शामिल है। करीब एक लाख की आबादी वाला वरेली गांव में मौत का मंजर देखकर अब प्रशासन के हाथ-पांव फूलने लगे हैं। जहरीली शराब ने कई जिंदगियां तबाह कर दी है। शांति देवी जो 4 महीने पहले उत्तर प्रदेश के गोंडा से अपने पति संजय चौहान के साथ रोजी-रोटी की तलाश में सूरत के वरेली गांव में आई थी। शांति देवी अपने पति संजय चौहान के साथ यहां एक किराये के मकान में रह रही थी, शांति देवी अपने तीन बच्चों को गांव में ही छोड़कर इसलिए आई थी कि पति की नौकरी कहीं शुरू हो जाएगी तो वो बाद में बच्चों को भी बुला लेंगी। लेकिन शांति देवी की किस्मत को कुछ और ही मंजूर था, संजय 9 सितंबर की शाम को शराब पीकर घर आया और ऐसा सोया कि दोबारा उठा ही नहीं।

पुलिस ने चलाया तलाशी अभियान
मौत के बढ़ते आंकड़े देखकर गांव वाले दहशत में हैं। वहीं पुलिस खानापूर्ति के लिए अब घर-घर जाकर शराब के खिलाफ तलाशी अभियान चला रही है। वरेली गांव की इस घटना के बाद प्रशासन ने गांव में चारों तरफ फैली गंदगी पर दवा का झिड़काव शुरू कर दिया है ताकि महामारी न फैले और स्वास्थ्य विभाग की टीम को घर-घर भेजकर ये पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि कहीं किसी और घर में कोई बीमार तो नहीं है या कोई नशा तो नहीं करता है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top