Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

14 कोयला ब्लाकों की हुई नीलामी, सरकार को 80 हजार करोड़ का फायदा:जावडेकर

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में बनी नई सरकार ने 18 में से 14 कोल ब्लाकों की नीलामी कर 80 हजार करोड़ का राजस्व अर्जित किया है।

14 कोयला ब्लाकों की हुई नीलामी, सरकार को 80 हजार करोड़ का फायदा:जावडेकर

भोपाल.पूर्ववर्ती संप्रग सरकार पर कोल ब्लॉक आंवटन में अनियमितता बरतने और करोड़ों रुपए के राजस्व नुकसान का आरोप लगाते हुए केन्द्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि वर्तमान सरकार ने मात्र 14 कोयला ब्लाकों की नीलामी से 80 हजार करोड़ का राजस्व प्राप्त किया है।

'VIDEOCON' दिसंबर में शुरू करेगी '4G' सेवा, अगले तीन साल में 1,200 करोड़ का निवेश करेगी

राजधानी भोपाल में वनों की रियल टाइम मॉनिटरिंग, संयुक्त वन प्रबंधन अनुश्रवण प्रणाली एवं आंचलिक ग्रामों में बैंकिंग सुविधा उपलब्ध कराने संबंधी वन विभाग द्वारा विकसित विभिन्न एप का उद्घाटन करने आए जावडेकर ने संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा कि पूर्ववर्ती संप्रग सरकार के कार्यकाल में कोल ब्लाक आवंटन में हुई अनियमितता से देश को लाखों करोड़ रुपयों के राजस्व का नुकसान हुआ। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में बनी नई सरकार ने 18 में से 14 कोल ब्लाकों की नीलामी कर 80 हजार करोड़ का राजस्व अर्जित किया है।

IT हार्डवेयर विनिर्माण उद्योग की मांग, शुल्क राहत और निर्यात प्रोत्साहन दे सरकार

इसका आधा पैसा मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, झारखंड जैसे राज्यों को जाएगा, जबकि कांग्रेस ने 140 कोयला ब्लाकों का आवंटन किया लेकिन उससे एक रुपए का राजस्व भी सरकार तक नहीं पहुंचा। जावड़ेकर ने कहा कि संयुक्त वन प्रबंधन अनुश्रवण प्रणाली के तहत वन समितियों पर निगरानी रखी जा सकेगी। वनों में स्थित आंचलिक ग्रामों में बैंकिंग सुविधायें उपलब्ध कराये जाने से श्रमिकों को अपनी मजदूरी लेने के लिए बैंक नहीं जाना पडेÞगा और इससे उनकी न केवल समय की बचत होगी बल्कि अनावश्यक किराया भी नहीं भरना पड़ेगा।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, कोयला नीलामी से साबित हुआ, हुआ था घोटाला-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Share it
Top