Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

टीचर को हुई सनक सवार छात्रा को घंटों कराया लड़कों के टॉयलेट में खड़ा

तेलंगाना सरकार ने इस घटना की जांच के आदेश दिए हैं।

टीचर को हुई सनक सवार छात्रा को घंटों कराया लड़कों के टॉयलेट में खड़ा

हैदराबाद के एक निजी स्कूल में 11 साल की छात्रा को स्कूल की यूनिफॉर्म ना पहनकर आने की पर टीचर ने मासूम को सजा के तौर पर लड़कों के टॉयलेट में खड़ा किया। इस पूरे मामले की जानकारी लड़की ने अपने परिजनों से बताई।

बता दें कि लड़की को ये सजा उसकी फिजिकल एजुकेशन टीचर ने दी। इस घटना के विरोध में परिजनों ने सोमवार को स्कूल पहुंचकर प्रदर्शन किया। तेलंगाना सरकार ने इस घटना की जांच के आदेश दिए हैं। वहीं आंध्र प्रदेश चाइल्ड राइट्स एसोसिएशन ने इस घटना को लेकर राज्य मानवाधिकार आयोग में इस घटना की शिकायत दर्ज कराई है।

घटना शनिवार को रामचंद्रपुरम स्थित बीएचईएल के परिसर स्थित राव हाईस्कूल में हुई थी। लड़की के पिता ने इस मामले में चाइल्ड राइट्स एसोसिएशन को शिकायत के साथ एक वीडियो क्लिपिंग भी भेजी है। लड़की ने बताया कि टीचर की इस सजा से बहुत शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा, मेरा लड़कों ने बहुत मजाक बनाया।

लड़की के पिता के अनुसार लड़की शनिवार को बिना यूनिफॉर्म स्कूल गई थी। जब वो अपनी क्लास के अंदर पहुंची तो उसकी फिजिकल एजुकेशन टीचर प्रियंका ने यूनिफॉर्म नहीं पहन कर आने की वजह पूछी।

इसके बाद लड़की ने बताया कि बच्ची का कहना है कि मैंने टीचर को बताया था कि मेरी मां ने स्कूल यूनिफॉर्म साफ कर दिया है, वो सूख नहीं पाया था, इसलिए मुझे दूसरे कपड़ों में आना पड़ा, लेकिन टीचर ने मेरी बात नहीं सुनी और मुझे ऐसी सजा दी।

इसे भी पढ़ें- प्रद्युम्न को उसकी बहन से एक टीचर ने किया था अलगः मां ज्योति ठाकुर

बता दें कि पिछले कुछ दिनों से स्कूलों में बच्चों के साथ हो रहे अत्याचार के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। 8 सितंबर को गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में एक बच्चे की बेरहमी से हत्या कर दी गई, तो वहीं 9 सितंबर को दिल्ली के एक स्कूल में 5 साल की बच्ची से स्कूल के ही चपरासी ने रेप किया।

परिजन अपने बच्चों को बेहतर भविष्य बनाने के लिए स्कूल भेजते हैं, लेकिन आजकल स्कूल ही बच्चों के लिए असुरक्षित होते जा रहे हैं।

Next Story
Share it
Top