Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जानिए भाजपा की महाबैठक की 10 खास बातें

इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत सभी भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहेंगे।

जानिए भाजपा की महाबैठक की 10 खास बातें
X

भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आज भुवनेश्वर में शुरू हो गई जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ओडिशा समेत कोरोमंडल क्षेत्र में पार्टी का प्रभाव बढ़ने की रूपरेखा पेश कर सकते हैं जहां पार्टी पारंपरिक तौर पर कमजोर मानी जाती है।

(1) भाजपा पदाधिकारी राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक की रूपरेखा तैयार करने में जुट गए है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दोपहर बाद पहुंचने पर इसे आगे बढ़ाया जाएगा। राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक ऐसे समय में हो रही है जब भाजपा ने उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में जबर्दस्त जीत दर्ज की है, साथ ही गोवा और मणिपुर में सरकार बनाने में सफल रही है।

(2) ओडिशा के भुवनेश्वर में 15 और 16 अप्रैल को भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हो रही है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, सभी भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्रियों समेत पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद रहेंगे। पिछले महीने ओडिशा के स्थानीय निकाय चुनाव में मिली जीत के बाद भाजपा ने भुवनेश्वर में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक करने का फैसला किया है।

(3) भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व को लगता है कि 2019 में लोकसभा और विधानसभा चुनाव में बडी जीत के लिए अभी से तैयारी शुरु की जानी चाहिए। पार्टी ओडिशा और पश्चिम बंगाल पर विशेष ध्यान दे रही है। ओडिशा में साल 2000 से बीजद प्रमुख और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के नेतृत्व में सरकार है और भाजपा को लगता है कि ओडिशा में सरकार विरोधी रुख का उसे लाभ मिल सकता है क्योंकि कांग्रेस वहां कमजोर हुई है।

(4) प्रधानमंत्री मोदी के यहां आगमन पर शानदार स्वागत की तैयारी की गई है और हवाई अड्डे से राजभवन तक कई स्थानों पर उनके स्वागत की योजना बनाई गई है। मोदी रात को राजभवन में रुकेंगे। अमित शाह का यहां आने पर 74 कमल के फूलों की माला से स्वागत किया गया जिसका आशय 147 सदस्यीय ओडिशा विधानसभा में बहुमत के अंक से है। केंद्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा है कि ओडिशा मोदी सरकार की गरीबोन्मुखी नीतियों की प्रयोगशाला है, साथ ही उन्होंने प्रदेश सरकार पर निशाना भी साधा था।

(5) प्रधानमंत्री का यहां ब्रिटिश सरकार के खिलाफ 1817 के संग्राम से जुड़े 16 परिवारों को सम्मानित करने का भी कार्यक्रम है। पार्टी ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक का नामकरण जाने माने ओडिया कवि भीमा भोई के नाम पर किया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story