Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्पेक्ट्रम नीलामी से भरी सरकार की झोली, मिले 1.10 लाख करोड़

एक सूत्र ने कहा कि चार बैंडों में स्पेक्ट्रम नीलामी 115 दौर की बोलियां के बाद संपन्न हुई और कुल 1,09,874 करोड़ रुपए मूल्य की बोली मिली। दूरसंचार विभाग उच्चतम न्यायालय की अनुमति के बाद बोली के नतीजों व सफल बोलीदाताओं के नामों की घोषणा करेगा।

स्पेक्ट्रम नीलामी से भरी सरकार की झोली, मिले 1.10 लाख करोड़
X

नई दिल्ली. देश में दूरसंचार स्पेक्ट्रम की सबसे बड़ी नीलामी आज 19वें दिन संपन्न हो गई। इस नीलामी से सरकार को करीब 1.10 लाख करोड़ रुपए मिले हैं। एक सूत्र ने कहा कि चार बैंडों में स्पेक्ट्रम नीलामी 115 दौर की बोलियां के बाद संपन्न हुई और कुल 1,09,874 करोड़ रुपए मूल्य की बोली मिली। दूरसंचार विभाग उच्चतम न्यायालय की अनुमति के बाद बोली के नतीजों व सफल बोलीदाताओं के नामों की घोषणा करेगा।

चीन को पछाड़ देगा भारत, 7.8 फीसदी रहेगी वृद्धी दर

यह मामला अभी शीर्ष अदालत में लंबित है। स्पेक्ट्रम नीलामी में आइडिया सेल्युलर के पास मौजूद 9 लाइसेंस क्षेत्रों, रिलायंस टेलीकाम व वोडाफोन दोनों के 7-7 लाइसेंस क्षेत्रों और भारती एयरटेल के 6 लाइसेंस क्षेत्रों के स्पेक्ट्रम शामिल हैं। इन क्षेत्रों में इन कंपनियों के लाइसेंस की मियाद 2015-16 में समाप्त हो रही है।

बैंक सोच समझकर करें आऊटसोर्सिंग : आरबीआई

नीलाम किए गए ज्यादातर स्पेक्ट्रम 900 मेगाहर्ट्ज व 1800 मेगाहर्ट्ज बैंड के हैं। इसके साथ साथ 2014 की नीलामी से बचे 1800 मेगाहर्ट्ज बैंड व 2013 में नहीं बिक सके 800 मेगाहर्ट्ज (सीडीएमए स्पेक्ट्रम) की भी नीलामी की गई है। कुल 22 में से 17 सर्किलों के लिए स्पेक्ट्रम की नीलामी कराई गयी है। इनमें 900 मेगाहर्ट्ज, 1800 मेगाहर्ट्ज तथा 800 मेगाहर्ट्ज के कुल 380.75 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम रखे गए थे। 3जी मोबाइल सेवाआें के लिए निर्धारित 2100 मेगाहर्ट्ज बैंड में 5 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम भी नीलामी के लिए रखा गया।

ऊंचे ऋण से बाजार प्रभावित:आरबीआई डिप्टी गवर्नर

नीलामी दस्तावेज के अनुसार, दूरसंचार आपरेटरों को 2100 मेगाहर्ट्ज और 1800 मेगाहर्ट्ज बैंड में शुरू में 33 प्रतिशत राशि का अग्रिम भुगतान तथा 900 मेगाहर्ट्ज और 800 मेगाहर्ट्ज में 25 प्रतिशत राशि का भुगतान करना होगा।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top