Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

व्यापमं घोटाला मामले में दिग्विजय सिंह को बड़ा झटका, एसआइटी की रिपोर्ट सही

मामले की जांच कर रही सआईटी ने शुक्रवार को हाइकोर्ट को अपनी रिपोर्ट सौंपी है।

व्यापमं घोटाला मामले में दिग्विजय सिंह को बड़ा झटका, एसआइटी की रिपोर्ट सही
X

जबलपुर. मध्य प्रदेश के चर्चित व्यापमं (व्यावसायिक परीक्षा मंडल) घोटाले में मुख्यमंत्री और शिवराज सिंह और उनके परिजनों की भूमिका पर सवाल उठा रहे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को बड़ा झटका लगा है। मामले की जांच कर रही सआईटी ने शुक्रवार को हाइकोर्ट को अपनी रिपोर्ट सौंपी है।

खंडवा में जल सत्याग्रह जारी, सत्याग्रहियों के पैरों से निकला खून

एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि कहा है कि दिग्विजय द्वारा दिए गए सबूत मूल दस्तावेज नहीं है इनसे छेड़छाड़ की गई है। इसआईटी ने बताया कि मूल दस्तावेज वहीं हैं जो उसके पास हैं।एसआईटी की इस रिपोर्ट के बाद हाई कोर्ट ने कहा है कि यदि वह चाहे तो दिग्विजय सिंह के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर सकती है। अब दिग्विजय सिंह के खिलाफ एसआईटी ही कदम उठाएगी। हालांकि यह कह पाना मुश्किल है एसआइटी कब तक और क्या कदम उठाएगी । यह तो आने वाला वक्त ही बताएगी।

देशभर में गोवध पर लगे प्रतिबंध: राजनाथ सिंह

आपको बताते चलें कि कांग्रेस महासचिव दिग्विजय ने फरवरी में 15 पन्ने का एक हलफनामा देकर एसआईटी के प्रमुख जस्टिस चंद्रेष भूषण से यह शिकायत की थी। जिसमें कहा गया था कि व्यापम घोटाले में मुख्य आरोपी नितिन महेन्द्रा के कंप्यूटर से जो एक्सेल शीट बरामद की गई थी, उससे छेड़छाड़ हुई है।

दिग्विजय का कहना था कि इस मामले की जांच कर रही एसटीएफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और उनके परिजनों को बचाना चाहती है, इसलिए उसने एक्सेल शीट में हेराफेरी करके जहां सीएम लिखा था वहां पर केंद्रीय मंत्री उमा भारती और राजभवन का नाम लिख दिया है। दिग्विजय सिंह ने से एक पेन ड्राइव में सारे सबूत एसआईटी को सौंप थे। एसआईटी ने इन सबूतों की जांच गुजरात स्थित फॉरेंसिक साइबर लेबोरेटरी से कराई थी।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story