Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

SC ने दिया आदेश, रात दस बजे से लेकर सुबह पांच बजे तक नहीं फुटेंगे पटाखे

पटाखों की ध्वनि की तीव्रता 100 डेसीबल से भी अधिक होती है।

SC ने दिया आदेश, रात दस बजे से लेकर सुबह पांच बजे तक नहीं फुटेंगे पटाखे
X

पर्यावरण मंत्री अंतर सिंह आर्य ने प्रदेशवासियों को दीपावली पर्व की शुभकामनाएं देते हुए निर्धारित ध्वनि-स्तर के पटाखों का सीमित मात्रा में उपयोग और पटाखों से उत्पन्न कचरे को अलग से निष्पादित करने की अपील की है।

श्री आर्य ने आग्रह किया है कि जलाने के बाद पटाखा कचरे को ऐसे स्थानों पर न फेकें जहां प्राकृतिक या पेयजल-स्रोत प्रदूषित होने की संभावना हो।

श्री आर्य ने कहा कि पटाखों से जलने से उत्पन्न कागज के टुकड़े एवं अधजली बारूद के कचरे के सम्पर्क में आने वाले पशुओं और बच्चों के दुर्घटनाग्रस्त होने की संभावना होती है। कुछ पटाखों की ध्वनि की तीव्रता 100 डेसीबल से भी अधिक होती है।

यह भी पढ़ें- हरियाणा DGP को मिली धमकी, चंद घंटों में छुड़ा ले जाएंगे बाबा राम रहीम को

श्री आर्य ने कहा कि पटाखों के ज्वलनशील एवं ध्वनिकारक होने के कारण परिवेशी वायु में प्रदूषक तत्वों की वृद्धि होने से पर्यावरण और मानव पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।

केन्द्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना जीएआर 682 (ई) के अनुसार 125 डी.बी. (ए.आई.) या 145 डी.बी. (सी) से अधिक ध्वनि-स्तर जनक पटाखों का विनिर्माण, विक्रय या उपयोग वर्जित होगा।

यह भी पढ़ें- उत्तरी मेक्सिको की जेल में कैदियों के बीच खूनी संघर्ष, 13 की मौत

उच्चतम न्यायालय के ध्वनि प्रदूषण पर नियंत्रण के परिप्रेक्ष्य में जारी निर्देशानुसार रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक ध्वनिकारक पटाखों का चलाया जाना पूरी तरह प्रतिबंधित होगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story