Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खंडवा में जल सत्याग्रह जारी, सत्याग्रहियों के पैरों से निकला खून

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में ओंकारेश्वर बांध का जलस्तर बढ़ाए जाने के विरोध में चल रहा जल सत्याग्रह का 12वें दिन बधुवार को भी जारी रहा।

खंडवा में जल सत्याग्रह जारी, सत्याग्रहियों के पैरों से निकला खून
X
खंडवा. मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में ओंकारेश्वर बांध का जलस्तर बढ़ाए जाने के विरोध में चल रहा जल सत्याग्रह का 12वें दिन बधुवार को भी जारी रहा। पानी में लगातार खड़े रहने की वजह से जल सत्याग्रहियों के पैर गलने लगे हैं। जिसकी वजह से अब उनके पैरों से खून का रिसाव होने लगा है। राज्य सरकार द्वारा पिछले दिनों ओंकारेश्वर बांध का जलस्तर 189 मीटर से बढ़ाकर 191 कर दिया है। सरकार के इस फैसले के खिलाफ ग्रामीण और नर्मदा बचाओ आंदोलन के कार्यकर्ताओं ने 11 अप्रैल से घोगलगांव में जल सत्याग्रह शुरू कर दिया था। पिछले 12 दिन से सत्याग्रह कर रहे आंदोलनकारियों की हालत लगातार बिगड़ती जा रही है।
आपको बता दे कि लगाता पानी में खडे रहने की वजह से पैरों की चमड़ी में गलन शुरू हुई, फिर सर्दी-बुखार, जुकाम ने उन्हें परेशान कर रखा है। नर्मदा बचाओ आंदोलन के वरिष्ठ सदस्य और आम आदमी पार्टी (आम) के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल ने कहा कि पिछले कई दिनों से जल सत्याग्रह कर रहे ग्रामीणों की हालत में लगातार गिरावट आ रही है, वहीं जलस्तर बढ़ने से किसानों की जमीन भी पानी में डूब रही है। अग्रवाल का कहना है कि प्रभावितों को पुनर्वास नीति के तहत लाभ नहीं मिला है और सरकार की ओर से दिए गए अपर्याप्त मुआवजे को कई किसान सरकार को वापस भी कर चुके हैं। उनका आरोप है कि सरकार ने मनमर्जी से बांध का जलस्तर बढ़ा दिया है। सरकार अपनी हठधर्मिता पर अड़ी हुई है। किसानों और प्रभावितों की बात वह सुनने को तैयार नहीं हैं।
वहीं दूसरी ओर सरकार लगातार एक ही बात कह रही है कि बांध का जलस्तर बढ़ाए जाने से किसी की जमीन नहीं डूबी है, नहर में पानी आने से किसान खुशहाल है और उन्हें लग रहा है कि अब उसकी खेती अच्छी होगी।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, समाज तक पहुंचे संदेश-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story