Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसानों को मुआवजे में मिलेंगे 5 सौ करोड़ रूपए, सीएम शिवराज सिंह करेंगे प्रभावित जिलों का दौरा

प्राकृतिक आपदा में फसलों को हुई क्षति पर राज्य सरकार अब तक में करीब 12 हजार करोड़ रुपए का मुआवजा बांट चुकी है।

किसानों को मुआवजे में मिलेंगे 5 सौ करोड़ रूपए, सीएम शिवराज सिंह करेंगे प्रभावित जिलों का दौरा
X

भोपाल. मध्यप्रदेश में बारिश व ओले से फसलों को हुए नुकसान के मुआवजे के लिए अनुपूरक बजट में 500 करोड़ रुपए का प्रावधान किया जा रहा है। मुआवजे की राशि यदि और बढ़ती है तो उसे भी राज्य सरकार अन्य मदों से प्रदान करेगी। इसे राजस्व नियमों के अनुसार किसानों को प्रदान किया जाएगा। प्राकृतिक आपदा में फसलों को हुई क्षति पर राज्य सरकार अब तक में करीब 12 हजार करोड़ रुपए का मुआवजा बांट चुकी है। पिछले वर्ष भी करीब 22 सौ करोड़ रुपए बांटा गया था। सरकार के प्रवक्ता डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि अनुपूरक बजट में मुआवजे के लिए 500 करोड़ रुपए का प्रावधान किया जा रहा है। इसके अलावा भी यदि राशि की जरुरत पड़ेगी तो सरकार अन्य मदों से राशि मुहैया कराएगी।

मप्र के 15 जिलों की 762 गांवों की फसल हो गई बर्बाद, सरकार ने उठाए सख्‍त कदम

कमजोर गेहूं की खरीदी भी होगीः- ओला व बारिश से गेहूं की फसल क्षतिग्रस्त हुई है। ऐसे में जो गेहूं कमजोर पड़ गया है, उसकी खरीदी करने के लिए राज्य सरकार केंद्र को पत्र लिखेगी। केंद्र से कहा जाएगा कि कमजोर गेहूं की खरीदी भी की जाए। सरकार ने बड़े व्यापारियों के हितों को ध्यान में रखकर एक बड़ा फैसला लिया। कैबिनेट ने वैट अधिनियम- 2006 में संशोधन को मंजूरी दे दी। इसमें गेहूं व धान पर वार्षिक क्रय कर की सीमा 10 करोड़ से बढ़ाकर 300 करोड़ रुपए करने का निर्णय लिया गया है। सरकार का तर्क है कि इससे प्रदेश में निजी व्यापारी बाजार में किसानों से उचित रेट पर गेहूं व धान खरीदी में रुचि दिखाएंगे। इसका फायदा किसानों को होगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में कुल डेढ़ दर्जन से अधिक प्रस्ताव रखे गए। इसमें से कुछ को छोड़कर बाकी सभी प्रस्तावों को मंजूरी दे दी गई।
सीएम आज से करेंगे प्रभावित जिलों का दौराः- प्रदेश के कई जिलों में ओला व बारिश से फसलों को हुए नुकसान को राज्य सरकार ने भयावह प्राकृतिक आपदा निरूपित किया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रियों से कहा कि उनके विभागों के बजट में इस वर्ष कटौती करना पड़ेगा। इस राशि से किसानों की भरपूर सहायता की जा सकेगी। उन्होंने कहा कि वे खुद 18 मार्च से ऐसे प्रभावित जिलों का दौरा करेंगे। पहले दिन वे पांच जिलों का दौरा करेंगे। श्री चौहान सुबह 10 बजे हेलीकाप्टर से रवाना होकर 11 बजे नीमच जिले के डारू गांव पहुंचेंगे। इसके बाद वे दोपहर लगभग सवा 12 बजे मंदसौर जिले की मल्हारगढ़ तहसील के हरसौल गांव, लगभग दो बजे उज्जैन जिले की बड़नगर तहसील के गजनीखेड़ी गांव, सवा तीन बजे शाजापुर जिले की तहसील मोमन बड़ोदिया के मताना व शाम 4.30 बजे राजगढ़ जिले की सारंगपुर तहसील के डिगवार गांव जाएंगे।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, अन्य बातें -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story