Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मध्‍यप्रदेश: बैल की जगह बेटियों को हल में जोत रहा किसान

खेती ही इकलौता रोजगार और परिवार को पालने की मजबूरी।

मध्‍यप्रदेश: बैल की जगह बेटियों को हल में जोत रहा किसान
X

मध्‍यप्रदेश में पिछले दिनों से कई किसान आत्‍महत्‍या कर चुके हैं और यह मुद्दा अभी वहां काफी ज्वलंत है। किसानों के ऐसा करने के पीछे सबसे बड़ी बात यह है कि उनके पास खेती के अलावा कोई दूसरा रोजगार नहीं है।

ऐसे में परिवार को पालने के लिए वह बैल की जगह बेटियों से भी हल खींचवाने पीछे नहीं रह रहा है। उद्देश्य बस इतना की किसी तरह खेती शुरू हो और परिवार को दो जून की रोटी का जुगाड़ हो सके।

प्रदेश में किसानों की आत्‍महत्‍या से हालांकि सरकार इस मुद्दे पर सोचने के लिए मजबूर हुई है। बेटियों को हल में जोतने वाले प्रदेश के बसंतपुर पांगरी गांव के हैं और इसकी तस्‍वीर अपने आप में बहुत कुछ कह रही है।

ये भी पढ़े- राजस्थान: पानी नहीं तो दुल्हन नहीं, गांवों में कुंवारे बैठे हैं लड़के

सरदार काहला ने दावा किया कि खेतों में जुताई के लिए बैल खरीदने और उनकी देखभाल के लिए उनके पास पैसा नहीं है। आर्थिक तंगी के कारण ही उनकी दोनों बेटियों ने पढ़ाई छोड़ दी है।

एक का नाम राधिका है जो 14 साल की है और दूसरी का नाम कुंती है जो 11 साल की है। पैसों की कमी और पिता की मदद के लिए उन्‍होंने स्‍कूल जाना छोड़ दिया।

मदद मुहैया कराई जाएगी

खेतों में हल जोतने के लिए बेटियों के इस्‍तेमाल की घटना हैरान करने वाली है। किसानों को निर्देश दिया गया था कि इस तरह की गतिविधियों के लिए बच्‍चों का इस्‍तेमाल ना करें।

उन्‍हें जिस भी तरह की मदद की जरूरत होगी, उन्‍हें दी जाएगी। प्रशासन मामले को देख रहा है। सरकारी योजनाओं के तहत किसान को मदद मुहैरा कराई जाएगी।

ये भी पढ़े- VIDEO: बदमाशों ने आदमी को लोहे की रॉड से पीटा, लोग देखते रहे तमाशा

किसानों की हालत दयनीय

मध्‍य प्रदेश में किसानों की स्थिति अत्‍यंत दयनीय है। कर्ज के बोझ तले दबे किसानों द्वारा आत्‍महत्‍या जैसे कदम उठाए जाने की खबरें आती रहती हैं। हाल ही में किसानों द्वारा पूरे राज्‍य में आंदोलन भी चलाया गया।

इस दौरान हिंसा में कई किसानों को जानें भी गंवानी पड़ी। देश के कई अन्‍य राज्‍यों में भी किसानों का हाल बुरा है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story