Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मध्य प्रदेशः डॉक्टरों ने रचा इतिहास, महिला के पेट से निकला 22 किलो का ट्यूमर

जामठी निवासी आदिवासी युवती सरस्वती उईके ''ओवेरियन सिस्ट'' की बीमारी से जूझ रही थी।

मध्य प्रदेशः डॉक्टरों ने रचा इतिहास, महिला के पेट से निकला 22 किलो का ट्यूमर
X
बैतूल़. मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के चिकित्सकों ने एक महिला के पेट से 22 किलो का ट्यूमर निकालकर सर्जरी के क्षेत्र में नया कीर्तिमान बनाने का दावा किया है। अब तक छह किलो का टयूमर निकालने का ही रिकार्ड दर्ज होने की बात कही जा रही है। जिस आदिवासी युवती के पेट से यह ट्यूमर निकाला गया है, वह स्वस्थ है।
जामठी निवासी आदिवासी युवती सरस्वती उईके 'ओवेरियन सिस्ट' की बीमारी से जूझ रही थी। उसके पेट में कई वर्षो से असहनीय दर्द हुआ करता था। अशोक उइके ने बताया है कि उनकी भतीजी सरस्वती कई सालों से परेशान थी, एक मर्तबा उसके पेट से पानी भी निकलवाया गया था, लेकिन हालत नहीं सुधरी। वह दिनों दिन कमजोर हो रही थी, इसके बाद ऑपरेशन कराया है।
एक निजी चिकित्सालय से नाता रखने वाले चिकित्सक डॉ. शैलेंद्र पेंद्राम ने बताया कि सरस्वती उइके को पेट में ट्यूमर (पानी से भरी थैली) और गांठ दोनों थी। इस बीमारी से वह करीब पांच-छह वर्ष से जूझ रही थी। उसके पेट का आकार लगातार बढ़ता जा रहा था। असहनीय दर्द होने पर परिजनों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया था। यहां हुई जांच में पता चला कि पेट में एक गांठ और एक 20 से 22 किलो की पानी की थैली (ट्यूमर) भी है। इस पर ऑपरेशन का फैसला लिया गया। गांठ और ट्यूमर को ऑपरेशन कर निकाल दिया गया है। इस आपरेशन में सरस्वती की बच्चादानी भी निकालनी पड़ी।
डॉक्टर पेंद्राम ने बताया कि पानी की थैली और गांठ से शरीर के दूसरे अंगों पर दबाव बढ़ रहा था। इससे मरीज को भूख तो लगती थी, लेकिन थोड़ा सा खाने पर ही ऐसा लगता था जैसे पेट भर गया हो। यही वजह है कि वह अत्यधिक कमजोर हो गई थी।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story