Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मंदसौर किसान आंदोलन: मारे गए लोगों में से कोई नहीं था किसान

मंदसौर में बीते मंगलवार को हुई हिंसा में 5 किसानों के मारे जाने के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया था।

मंदसौर किसान आंदोलन: मारे गए लोगों में से कोई नहीं था किसान
X

मध्य प्रदेश से लेकर महाराष्ट्र तक किसान सड़कों पर हैं। मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले के पिपलियामंडी में बीते मंगलवार को हुई हिंसा में पांच किसानों के मारे जाने के बाद यहां कर्फ्यू लगा दिया गया था।

लेकिन अब खुलासा हुआ है कि जो किसान पुलिस की गोली के शिकार हुए थे। कहत सकते हैं कि मारे गए लोगों में कोई भी भूमि मालिक नहीं था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मारे गए पांच लोगों में एक 19 साल का लड़का था जिसका नाम अभिषेक दिनेश पाटीदार था और पढ़ाई कर रहा था।

वहीं 23 साल का युवक पूनमचंद उर्फ बबलू जगदीश पाटीदार भी शामिल था। जो सेना में भर्ती होना चाहता था। तीसरा व्यक्ति 30 साल का था जिसका नाम चैनराम गनपत पाटीदार बताया जा रहा है। जो मजदूरी करता था।

जो बाकी दो लोग इस आंदोलन में मारे गए एक का नाम सत्यनारायण मांगीलाल धनगर और दूसरे का नाम कन्हैयालाल धुरीलाल पाटीदार। ये दोनों खेती करते थे। लेकिन इन पांचों में से किसी के भी नाम जमीन नहीं थी और ना ही कोई संबंध था।

इस लोगों पर फायरिंग के बाद मध्य प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि पुलिस के द्वारा कोई फायरिंग नहीं हुई है। पिछले 5 से 6 दिनों से मंदसौर और नीमच में असमाजिक तत्व आगजनी और लूटपाट करने का काम कर रहे हैं।

सरकार ने निर्देश दिए थे कि प्रदर्शनकारियों पर कोई सख्ती नहीं होनी चाहिए।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story