Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हैवान बना पुलिसकर्मी, साइकिल चलाने पर मासूम को जलाया-मौत

रेहाना ने आशंका जताई है कि प्रकाश ने बेटी के साथ घर में ज्यादती भी की होगी।

हैवान बना पुलिसकर्मी, साइकिल चलाने पर मासूम को जलाया-मौत
X
इंदौर. सिकंदराबाद कॉलोनी में आग से जली बच्ची यास्मीन अली ने एमवाय अस्पताल में दम तोड़ दिया। परिजन का कहना है कि मौत से पहले वह तड़प रही थी। दहशत में वह चीखते हुए कह रही थी कि वो मुझे फिर जला देगा, अम्मी उसे मत छोड़ना।
29 जनवरी को यास्मीन पुलिसकर्मी प्रकाश की बेटी की साइकिल चला रही थी। यह देख प्रकाश ने उसे खूब पीटा। बच्ची जब मार से बचने के लिए घर में चली गई तो प्रकाश वहां भी घुस गया। फिर बच्ची घर से जलती हुई बाहर निकली। लोगों ने आग बुझाकर उसे अस्पताल पहुंचाया। दो दिन बाद सुबह साढ़े 5 बजे उसकी मौत हो गई।
यास्मीन पांचवीं की छात्रा थी। उसके परिवार में मां, बड़ा भाई महफूज और दो बहनें नीलो व नाजमीन हैं। यास्मीन के पिता मुमताज अली का पांच साल पहले देहांत हो चुका। मां रेहाना लोगों के घरों में काम कर बच्चों की परवरिश कर रही थी। यास्मीन को खो चुकी रेहाना के दिल में जितना दुःख है, उससे ज्यादा प्रकाश के लिए गुस्सा है।
रेहाना का आरोप है कि प्रकाश ने ही उनकी बेटी को जलाकर मार डाला। यास्मीन दो दिन से तड़प रही थी। उसके दिल में इतनी दहशत थी कि वह रात में चीखती थी कि अम्मी मुझे बचा लो। वो आकर फिर मुझे जला देगा। रेहाना ने कहा कि पुलिस प्रकाश का बचाव कर रही है। यदि उस पर हत्या का केस दर्ज नहीं होगा तो मैं बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए सड़क पर उतर जाऊंगी। भाई महफूज ने कहा कि साइकिल छुड़ाकर प्रकाश बहन को पीट देता तो कोई बात नहीं थी, लेकिन उसने उसे जला दिया। पुलिस बोलती है कि लड़की ने खुद को आग लगा ली। आखिरकार 11 साल की बच्ची खुद को क्यों जलाएगी।
परिजनों का कहना है कि घटना की रात अस्पताल में सदर बाजार थाने से एएसआई एलएन पाटीदार आए थे। बच्ची बोल रही थी कि मुझे जला दिया। फिर भी वह बयान नहीं लिख रहे थे, जबकि बेटी उन्हें आपबीती सुना रही थी। इस बारे में पाटीदार का कहना है कि परिवार झूठ बोल रहा है। बच्ची बयान देने की स्थिति में नहीं थी। इसलिए उसके बयान दर्ज नहीं हुए। हम प्रकाश को क्यों बचाएंगे। जांच में यदि वह दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।
रेहाना ने आशंका जताई है कि प्रकाश ने बेटी के साथ घर में ज्यादती भी की होगी। डॉक्टर की पैनल ने यास्मीन का पोस्टमार्टम किया। उसकी वीडियोग्राफी भी कराई। मारपीट, जलाकर मारने के अलावा बच्ची के साथ ज्यादती के बिंदुओं के बारे में पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही पता चलेगा।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story