Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भोपाल में पूर्व सीएम बाबूलाल गौर और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली को दी गई श्रद्धांजलि,शिवराज ने कहा - ज्ञान, भक्ति और कर्म का त्रिवेणी संगम थे जेटली

उन्होंने कहा कि वे भारतीय जनता पार्टी के रणनीतिकार थे, न्यू इंडिया के शिल्पकार थे। शिवराज सिंह ने यह भी कहा कि 2003 में एमपी में सरकार बनाने में उन्होंने अहम भूमिका निभाई।

भोपाल में पूर्व सीएम बाबूलाल गौर और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली को दी गई श्रद्धांजलि
X
Tribute paid to Former Union Minister Arun Jaitley and Former CM Babulal Gaur in Bhopal

भोपाल। सोमवार को बीजेपी प्रदेश कार्यालय में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। जिसमें पूर्व सीएम बाबूलाल गौर और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर अपनी बात रखते हुए पूर्व सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि बाबू लाल गौर और जेटली जी , दोनों ने अपना पूरा जीवन देश की सेवा में लगा दिया। उन्होंने कहा कि जेटली के जिह्वा पर सरस्वती विराजती थी, हर विषय पर उनकी पकड़ थी। वे किसी भी चीज की ऐसी व्याख्या विश्लेषण करते थे कि लोग दंग रह जाते थे। तर्कों और तथ्यों के आधार पर विश्लेषण करने वाला ऐसा दूसरा व्यक्ति मैंने नहीं देखा।

उन्होंने कहा कि वे भारतीय जनता पार्टी के रणनीतिकार थे, न्यू इंडिया के शिल्पकार थे। शिवराज सिंह ने यह भी कहा कि 2003 में एमपी में सरकार बनाने में उन्होंने अहम भूमिका निभाई। उस समय की सरकार की खामियों को जिस तरह से उन्होंने उजागर किया और मीडिया में रखा , उससे हमारी सरकार सत्ता में आई। उन्होंने कहा वे पार्टी के लिए हमेशा तत्पर रहते थे। लोकसभा चुनाव को लेकर 2-2 बजे रात तक काम करते थे। अस्वस्था के समय भी वे ब्लॉग लिख कर पार्टी की और अपनी बात रखते थे। अंतिम सांस तक उन्होंने देश की चिंता की। वे ज्ञान, भक्ति और कर्म का त्रिवेणी संगम थे। ऐसे कर्मयोगी का असमय चले जाना अपूर्णीय क्षति है। इस मौके पर शिवराज सिंह ने पूर्व सीएम बाबूलाल गौर को लेकर अपनी कई यादें और प्रसंग शेयर किए।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

और पढ़ें
Next Story