Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Honey Trap Racket : आरती पर फूटा मोनिका का गुस्सा, बोली -अफसर बनने का सपना लेकर आई थी, दोस्ती में जीवन बर्बाद हो गया

हनी ट्रैप मामले (Honey Trap Racket) में पकड़ाई बीएससी की छात्रा मोनिका यादव (BSC Student Monica Yadav) का पुलिस पूछताछ (Police Inquiry) के दौरान गुस्सा गैंग की सरगना आरती दयाल (Aarti Dayal) पर फूट पड़ा। मोनिका (Monica) ने कहा, मैं अफसर बनने का सपना लेकर भोपाल आई थी, पर आरती (Aarti) से दोस्ती में सब बर्बाद हो गया।

Honey Trap Racket : आरती पर फूटा मोनिका का गुस्सा, बोली -अफसर बनने का सपना लेकर आई थी, दोस्ती में जीवन बर्बाद हो गया
X

हनी ट्रैप मामले (Honey Trap Racket) में पकड़ाई बीएससी की छात्रा मोनिका यादव (BSC Student Monica Yadav) का पुलिस पूछताछ (Police Inquiry) के दौरान गुस्सा गैंग की सरगना आरती दयाल (Aarti Dayal) पर फूट पड़ा। मोनिका (Monica) ने कहा, मैं अफसर बनने का सपना लेकर भोपाल आई थी, पर आरती (Aarti) से दोस्ती में सब बर्बाद हो गया। उसके कारण जीवन बर्बाद हो गया। गरीब परिवार की हूं इसलिए आरती का रौब देखकर मैं उससे प्रभावित हो गई और नौकरी के चक्कर में उससे जुड़ गई। यह सोचकर की उसकी इतनी पहचान है तो कहीं अच्छी जगह मेरी नौकरी लगा देगी। इंजीनियर के साथ मेरा वीडियो कब बना लिया, मुझे भी पता नहीं चला। मैंने आज तक वीडियो नहीं देखा, जब पुलिस ने बताया तो मैं भी चौंक गई।

मोनिका ने पूछताछ में बताया आरती से उसकी दोस्ती 6 महीने पहले फेसबुक पर हुई थी। उनकी प्रोफाइल देखने के बाद मैं उनसे प्रभावित हुई और जुड़ गई। छात्रा मोनकि ने कहा, मैं भोपाल के एक होस्टल में रहकर पढ़ाई करती हूं। गरीब परिवार से हूं और पिता नरसिंहगढ़ (Narsingarh) में किसान हैं। मुझे नौकरी की जरूरत थी। इसलिए मैंने आरती मैडम से मदद मांगी।

मैंने आज तक अपना वीडियो नहीं देखा है

इसके बाद एक दिन मैडम ने मुझे भोपाल (Bhopal) के एक होटल में निगम इंजीनियर हरभजन सिंह (Engineer Harbhajan Singh) से मिलवाया। फिर इंजीनियर दो-तीन बार और भोपाल आए। वहां मुझसे होटल में मिले। शुरू में आरती मैडम कमरे में मेरे साथ रहती थी और इंजीनियर के आते ही चली जाती थी। वैसे इंजीनियर से वे इसके बदले में क्या लेती थी, इसके बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं। लेकिन इंजीनियर ने एक बार मुझे 8000 रुपए दिए थे। दो-तीन बार हम इंदौर की होटल में भी मिले हैं। हमारा वीडियो कब बना लिया, मुझे भी पता नहीं चला। मैंने आज तक वीडियो नहीं देखा, जब पुलिस ने बताया तो मैं भी चौंक गई।

पक्की नौकरी के नाम पर इंदौर लाई थी

चार दिन पहले आरती मैडम मिली तो बोली कि इंदौर चलो, तुम्हारी पक्की नौकरी लगने वाली है। मैंने घरवालों को भी बोल दिया कि पांच दिन बाद नौकरी की मिठाई लेकर लौटूंगी। लेकिन यहां आते ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरती 50 लाख रुपए लेने के लिए मुझे इंदौर लाई थी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story