Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

शहडोलः 6 बच्चों की मौत के बाद जिला अस्पताल का जायजा लेने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री से हुई धक्कामुक्की

मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि बच्चों की मौत निमोनिया से हुई लेकिन यह सरकार की जिम्मेदारी है।

शहडोलः 6 बच्चों की मौत के बाद जिला अस्पताल का जायजा लेने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री से हुई धक्कामुक्की

शहडोल। बीते दिन जिला अस्पताल शहडोल में 12 घंटे के भीतर 6 बच्चों की मौत के बाद आज प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट औऱ प्रभारी मंत्री ओमकार सिंह मरकाम जायजा लेने शहडोल पहुंचे। और कुशाभाउ ठाकरे जिला अस्पताल के SCNU वार्ड में पहुंचकर स्थिति का निरीक्षण किया। और पीड़ितों से मुलाकात की इस दौरान सुधा गुप्ता नामक प्रसूता के पति ने रो-रो कर मंत्री से शिकायत की और अस्पाल के डॉक्टरों पर 25 हजार रुपये रिश्वत मांगनें का आरोप भी लगाया। पीड़ित ने कहा कि वह पैसा नहीं दे सका और उसके पत्नी की मौत हो गई। जिसके बाद मंत्री ने जांच का आश्वासन दिया।

कुशाभाऊ ठाकरे जिला चिकित्सालय में 6 बच्चों की मौत के बाद बड़ी कार्यवाही करते हुए स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट नें सिविल सर्जन डॉ उमेश नामदेव और सीएचएमओ डॉ राजेश पाण्डेय को कार्यमुक्त करने का निर्दैश दिया। मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि बच्चों की मौत निमोनिया से हुई लेकिन यह सरकार की जिम्मेदारी है। मामले की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।

मंत्री के साथ हुई धक्का मुक्की

स्वास्थ्य मंत्री के निरीक्षण के दौरान अव्यवस्था की शिकायत करने जिला अस्पताल पहुंचे भाजपा विधायक जयसिंह मरावी और भारतीय जनता युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष अजय सिंह बघेल ने कांग्रेस सरकार के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाये। और स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट और प्रभारी मंत्री ओमकार सिंह मरकाम के साथ धक्कामुक्की होने की खबर भी सामने आ रही है। इस मामले पर मीडिया से बात करते हुए मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि आज दुख की घड़ी में इस तरह के नारे लगाना उचित नही है। ऐसी गंभीर स्थिति में केवल बीजेपी ही राजनीति कर सकती है।

Next Story
Top