Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

5 मंत्रियों को बर्खास्त करने की मांग, वरिष्ठ विधायक इंदल सिंह कंसाना बोले- मुख्यमंत्री एक कौवा को मारकर टांग दें ताकि और कौवे कांव-कांव न करें

कंसाना ने सख्त लहजे में मुख्यमंत्री से मांग कि है की उमंग सिंघार सहित चार और मंत्रियो को बर्खास्त कर दिया जाए। इनमें गोविंद सिंह, गोविंद सिंह राजपूत, इमरती देवी और प्रद्युम्न सिंह तोमर को भी बाहर करने की मांग की है। उन्होंने सिंधिया खेमे पर जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने कहा कि पार्टी लाइन से हटकर बयानबाजी करने वालों पर मुख्यमंत्री तत्काल कार्रवाई करें। मुख्यमंत्री एक कौवा मार कर टांग दे जिससे दूसरे कांव कांव न करें।

5 मंत्रियों को बर्खास्त करने की मांग, वरिष्ठ विधायक इंदल सिंह कंसाना बोले- मुख्यमंत्री एक कौवा को मारकर टांग दें ताकि और कौवे कांव-कांव न करें
X
Senior MLA Indal Singh Kansana demanded the dismissal of 5 ministers

भोपाल. मध्य प्रदेश में कांग्रेस में विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। कांग्रेस के अलग अलग गुट के एक दूसरे पर टीका टिप्पणी करने से चूक नहीं रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और वन मंत्री उमंग सिंघार के बीच हुए विवाद के बाद अब दिग्गी समर्थक कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक इंदल सिंह कंसाना का बड़ा बयान आया है। उन्होंने उमंग सिंघार समेत सिंधिया खेमे के मंत्रियों को बर्खास्त करने और मंत्री मंडल सा बाहर करने की मांग की है।

कंसाना ने सख्त लहजे में मुख्यमंत्री से मांग कि है की उमंग सिंघार सहित चार और मंत्रियो को बर्खास्त कर दिया जाए। इनमें गोविंद सिंह, गोविंद सिंह राजपूत, इमरती देवी और प्रद्युम्न सिंह तोमर को भी बाहर करने की मांग की है। उन्होंने सिंधिया खेमे पर जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने कहा कि पार्टी लाइन से हटकर बयानबाजी करने वालों पर मुख्यमंत्री तत्काल कार्रवाई करें। मुख्यमंत्री एक कौवा मार कर टांग दे जिससे दूसरे कांव कांव न करें।

उनसे जब मंत्री पद नहीं मिलने की बात की गई तो उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि मुझे मंत्री नहीं बनाए जाने का दुख नहीं है। वर्तमान मंत्री मंडल में मुझसे ज्यादा योग्य होंगे इसलिए उन्हें मंत्री बनाया गया है। यही नहीं उन्होंने कहा कि विधनसभा चुनाव में दिग्विजय सिंह की अहम भूमिका रही है। उनके कारण प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनाने में कामयाब हुई है। मंत्री उमंग द्वारा लगाए गए आरोपों पर कंसाना ने कहा कि दिग्विजय सिंह का राजनीतिक जीवन बेदाग रहा है। उन्होंने मंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि मंत्री राज्य सरकार को बदनाम कर रहे है।जनता हमसे पूछ रही है सरकार में क्या हो रहा है।

गौरतलब है कि सिंघार लगातार दिग्विजय सिंह के ख़िलाफ बयानबाज़ी कर रहे हैं. उनकी शिकायत पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी कर चुके हैं. जब पानी सिर से ऊपर निकल गया तो सीएम कमलनाथ ने उन्हें मंगलवार को सीएम हाउल बुलाकर फटकार भी लगाई थी। जिसके बाद से वन मंत्री सिंघार ने चु्प्पी साध ली है। हालांकि, उन्होंने फटकार की बात को सिरे से नकार भी दिया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story