Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बलात्कार पीड़िता ने एएसपी से की शिकायत, कहा- जांच के नाम पर थाना प्रभारी घंटों बैठाकर करते हैं गंदी बातें

साहब आपके महिला थाना प्रभारी बयान लेने के लिए बुलाते है और घंटों बयान लेने के बहाने उसके साथ डर्टी बात करते हैं, जिससे कोई भी महिला शर्मसार हो जाए।

बलात्कार पीड़िता ने एएसपी से की शिकायत, कहा- जांच के नाम पर थाना प्रभारी घंटों बैठाकर करते हैं गंदी बातें
X

जबलपुर। साहब आपके महिला थाना प्रभारी बयान लेने के लिए बुलाते है और घंटों बयान लेने के बहाने उसके साथ डर्टी बात करते हैं, जिससे कोई भी महिला शर्मसार हो जाए। साथ ही शिकायत पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। जांच में हीला हवाली एवं आरोपी को संरक्षण दिया जा रहा है। इस आशय का आरोप बलात्कार पीडि़ता ने लिखित शिकायत देते हुए कही है।

द्वरका नगर, कछियाना निवासी पीडि़ता ने एएसपी संजीव उईके से लिखित शिकायत देते हुए बताया कि क्षेत्र में रहने वाले सपन सकतेल पिता स्व. महेश सकतेल से उसकी दोस्ती थी। जिसने शादी करने का झांसा देकर उसके साथ 2009 मेें संबंध बनाए थे जिसके बाद वह लगातार उसका शौषण करता रहा। अब जब उसने शादी के लिए दबाव बनाया तो वह अपने वादे से मुकर गया। जिसके चलते उसने मामले की शिकायत 7 जुलाई को महिला थाने में की थी।

घंटों बैठाकर करते हैं गंदी बातें

पीड़िता ने एएसपी संजीव उईके से शिकायत करते हुए बताया है कि महिला थाना प्रभारी सिंह साहब एवं रजनीश उपाध्याय के द्वारा मुझे आए दिन बयान लेने के लिए बुलाया जाता है और गंदी बातें की जाती है। विगत एक माह से पुलिस द्वारा उसे प्रताड़ित किया जा रहा है। अनेकों बार उसके बयान दर्ज कर लिए गए है परंतु अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। आरोपी खुलेआम घूम रहा है क्योंकि पुलिस कर्मी उसे संरक्षण दिए हुए है।

महिला अधिकारी को नहीं, हमें सुनाओ

थाना प्रभारी और पुलिस कर्मी की डर्टी बातों से प्रताड़ित युवती ने जब महिला अधिकारी को बयान लेने के लिए कहा तो इन दोनों का कहना था कि यहां जो बाते करते है हम लोगा ही करते है। पीडि़ता का यह भी आरोप है कि आरोपी को पकडऩे के लिए पैसो की मांग भी की गई है।

इनका कहना है

मामला अभी मेरे संज्ञान में नहीं आया है। अगर मेरे पास ऐसी कोई शिकायत आती है तो कार्रवाई की जायेगी। - अमित सिंह, पुलिस कप्तान

न्याय नहीं मिला तो कर लूंगी आत्महत्या

मामले में पीडि़ता ने न्याय की मांग की है। एएसपी ने भी जांच के बाद प्रकरण में उचित कार्रवाई का आश्वसन दिया है। पीडि़ता का यह भी कहना है कि अगर उसे न्याय नहीं मिला तो वह आत्महत्या कर लेगी जिसकी जवाबदारी महिला थाना प्रभारी और पुलिस कर्मी उपाध्याय की होगी।


और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story